PAK vs AFG: 47 चौके-7 छक्के, ODI के रोमांच की हदें हुई पार, पाकिस्तान के 10वें नंबर के बल्लेबाज ने अफगानिस्तान के जबड़े से छीनी जीत
PAK vs AFG: 47 चौके-7 छक्के, ODI के रोमांच की हदें हुई पार, पाकिस्तान के 10वें नंबर के बल्लेबाज ने अफगानिस्तान के जबड़े से छीनी जीत

पाकिस्तान और अफगानिस्तान (PAK vs AFG) के बीच तीन मैच की वनडे सीरीज जारी है। 24 अगस्त को महिंदा राजपक्ष अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में दूसरा मुकाबला खेला गया। जिसमें टॉस जीतकर अफगानिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और पांच विकेट के नुकसान पर 300 रन का स्कोर बनाया। जवाब में पाकिस्तान ने 302 जड़ एक विकेट से मैच अपने नाम किया। इस जीत के साथ ही टीम ने सीरीज (PAK vs AFG) पर 2-0 से अजेय बढ़त हासिल कर ली।

PAK vs AFG: रहमानउल्लाह गुरबाज़ ने खेली शानदार पारी 

pak vs afg: Rahmanullah Gurbaz

पहले बल्लेबाज करने के लिए उतरी अफगानिस्तान (PAK vs AFG) को रहमानउल्लाह गुरबाज़ और इब्राहिम ज़दरान ने धमाकेदार शुरुआत दिलाई। सलामी जोड़ी ने ढेरों रन बनाते हुए 200 से ज्यादा रनों की साझेदारी की। पहले विकेट के लिए रहमानउल्लाह गुरबाज़ और इब्राहिम ज़दरान के बीच 227 रन की पार्ट्नर्शिप हुई। उसामा मीर ने इब्राहिम ज़दरान को आउट कर इस जोड़ी को तोड़ा।

इब्राहिम जदरान ने 80 रन बनाए, जबकि रहमानउल्लाह गुरबाज़ को 151 रन के निजी स्कोर पर शाहीन शाह अफरीदी ने आउट किया। इन दोनों के अलावा मोहम्मद नबी ने 29 रन, राशिद खान ने 2 रन, शाहीदुल्लाह ने 1 रन बनाए। हशमतुल्लाह शाइदी और अब्दुल रहमान क्रमशः 15 और 4 रन पर नाबाद रहें। पाकिस्तान के लिए शाहीन शाह अफरीदी ने दो विकेट, नहीम शाह ने एक विकेट और उसामा मीर ने एक विकेट ली।

यह भी पढ़ें: ऋषभ पंत की जगह खाने वाला बल्लेबाज आ गया, विंडीज के खिलाफ विस्फोटक बल्लेबाजी से बरपाया कहर

PAK vs AFG: पाकिस्तान ने दर्ज की जीत 

PAK vs AFG

जवाब में दिए गए लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान (PAK vs AFG) की शुरुआत अच्छी रही। 52 रन के स्कोर पर पाक टीम को पहला झटका लगा। फ़ज़लहक़ फ़ारुक़ी ने फ़ख़र ज़मान को आउट कर अफगानिस्तान को पहली सफलता दिलाई। लेकिन इसके बाद इमाम-उल हक और बाबर आजम की जोड़ी ने शतकीय साझेदारी कर टीम की पारी को आगे बढ़ाया। दूसरे विकेट के लिए दोनों बल्लेबाजों ने 118 रन की भागीदारी निभाई।

फ़ज़लहक़ फ़ारुक़ी ने बाबर आजम को आउट कर इस पार्ट्नर्शिप को तोड़ा। उन्होंने 53 रन की पारी खेली। हालांकि, इनके अलावा कोई भी खिलाड़ी पर बड़ी पारी नहीं खेल सके। शादाब खान ने 48 रन अपने खाते में जोड़े। फ़ज़लहक़ फ़ारूक़ी के हाथ तीन सफलता लगी, जबकि मोहम्मद नबी ने दो, मुजीब उर रहमान ने एक और अब्दुल रहमान ने एक विकेट झटकाई।

यह भी पढ़ें: 1983 से लेकर 2013 तक…टीम इंडिया के लिए लकी साबित हुए विदेशी कोच, 5 बार ICC की ट्रॉफी पर भारत ने जमाया कब्ज़ा