Sri Lanka-Shikhar

श्रीलंका (Sri Lanka) दौरे पर पहुंची भारतीय टीम (Team India) मुख्य खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में शिखर धवन (Shikhar Dhawan) की कप्तानी में खेलने उतरेगी. दोनों देशों के बीच 3 मैचों की वनडे और इतने ही मुकाबलों की टी20 सीरीज खेले जाएगी. इस श्रृंखला का पहला मुकाबला 18 जुलाई को कोलंबो में आयोजित होगा. ऐसे में दोनों ही टीमे एक-दूसरे के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन के पर मुकाबले को जीतना चाहेंगी.

ऐसा रहा दोनों टीमों का प्रदर्शन

sri lanka

बात करें मेजबान टीम की तो इंग्लैंड दौरे से लौटी श्रीलंका (Sri Lanka) को वनडे और टी20 दोनों ही सीरीज में बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा है. ऐसे में जाहिर सी बात है कि, टीम इंडिया भी दोनों लिमिटेड ओवर की सीरीज को जीतना चाहेंगी. लंकाई टीम का विदेशों में प्रदर्शन भले ही बेहद खराब रहा है और टीम में उनके मुख्य खिलाड़ी मौजूद नहीं हैं. लेकिन, घर में टीम का सबसे शानदार प्रदर्शन रहा है.

मेजबान टीम ने अपने घर में अब तक 266 वनडे मैच खेले हैं. जिनमें से टीम को 155 मैच में जीत हासिल हुई है. वहीं 89 मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा है. यानी टीम ने तकरीबन 58 प्रतिशत मैच जीते हैं. इसी बीच सीरीज से पहले ही टीम को एक बड़ा झटका लग चुका है. दरअसल लंका टीम के सीनियर बल्लेबाज कुसल परेरा इंजरी के चलते टी20 और वनडे दोनों ही सीरीज से बाहर हो चुके हैं. ऐसे में फिर से कप्तानी दानुस शनाका को टीम दी गई है.

टीम इंडिया को 58 फीसदी मैचों में मिली जीत

श्रीलंका के खिलाफ शिखर धवन को लग सकता है करारा झटका! जानिए इसके पीछे की पूरी वजह

भारतीय टीम के प्रदर्शन की बात करें तो घर में अब तक टीम ने 345 वनडे मुकाबले खेले हैं. इनमें से 202 मैच में जीत हासिल की है. यानी कि, 58 प्रतिशत मैच में भारत को सफलता हासिल हुई है. जबकि 131 मैच में टीम को शिकस्त झेलनी पड़ी है. यानी लगभग 34 फीसदी मैचों में टीम का बुरा हाल रहा है. तो वहीं श्रीलंका (Sri Lanka) को अपने घर में सिर्फ 89 मैच में हार का सामना करना पड़ा है. यानी की 33 फीसदी मैच में टीम को नुकसान झेलना पड़ा है. इस मुताबिक दोनों का प्रदर्शन लगभग घर में बराबर का रहा है.

29 जुलाई तक जारी रहेगी सीरीज

श्रीलंका के खिलाफ शिखर धवन को लग सकता है करारा झटका! जानिए इसके पीछे की पूरी वजह

भारत-श्रीलंका (India vs Sri Lanka) के बीच पहला वनडे मैच 13 जुलाई को खेला जाना था. लेकिन, कोरोना के चलते अब इसकी शुरूआत 18 जुलाई को होगी. दूसरा मुकाबला 20 जुलाई, तीसरा वनडे 23 जुलाई खेला जाएगा. इसके बाद टी20 श्रृंखला की शुरूआत होगी.

पहला मैच 25 जुलाई, दूसरा टी20 27 जुलाई और आखिरी मैच 29 जुलाई को खेला जाएगा. भारतीय टीम को बीते 24 साल से मेजबान के साथ खेली गई द्विपक्षीय वनडे सीरीज में हार का सामना नहीं करना पड़ा है. आखिरी के 10 मैचों के रिकॉर्ड को देखें तो भारतीय टीम 8 वनडे में जीत हासिल की है.