आखिरी गेंद पर मिली हार के बाद तिलमिलाए फाफ डू प्लेसिस, इन 2 सीनियर खिलाड़ियों को ठहराया मुजरिम

फाफ डू प्लेसिस: आरसीबी की टीम को एलएसजी की टीम को आखिरी ओवर तक गए रोमांचक मुकाबले में एक विकेट से करारी शिकस्त झेलनी पड़ी। इस हार में आरसीबी के गेंदबाजो का बहुत बड़ा योगदान रहा। चिन्नास्वामी स्टेडियम में आरसीबीके धुंधर गेंदबाजी 213 रनों का विशाल लक्ष्य बचाने में नाकाम साबित हुए। टीम के स्टार गेदंबाज मोहम्मद सिराज में शुरू में काफी अच्छी गेंदबाजी की।

लेकिन, अंत में आते-आते लखनऊ के बल्लेबाजो ने उन्हें रड़ार पर ले लिया। इसी बीच इतने बड़े लक्ष्य को नहीं बचा पाने का सारा गुस्सा फाफ डू प्लेसिस का तेज गेंदबाज हर्षल पटेल पर फूट गया। वहीं उन्होंने इस खिलाड़ी को लेकर मेच के बाद एक बड़ी प्रतिक्रिया दी है। इसी कड़ी में उन्होंने विराट कोहली के नाम के भी जमकर कसीदे पढ़े। आईए जानते क्या कुछ कहा उन्होंने।

फाफ डू प्लेसिस का फूटा हर्षल पटेल पर गुस्सा

"उन दोनों की वजह से ही...", आखिरी गेंद पर मिली हार के बाद तिलमिलाए फाफ डू प्लेसिस, इन 2 सीनियर खिलाड़ियों को ठहराया मुजरिम

आरसीबी के कप्तान फाफ डू प्लेसिस अपने गुस्से पर काबू नहीं रख पाए है। जहां उन्होंने मेंजबान खिलाड़ी निकोलस पूरन की तारीफ की है वहीं उनका सारा गुस्सा तेज गेंदबाज हर्षल पटेल पर निकल गया है। मैच के बाद उन्होंने प्रेजेंटेशन सेरेमी में उन्होंने इस खिलाड़ी को जमकर फटकार लगाई है। उन्होंने कहा कि,

“निराश। वे मध्यक्रम में अच्छा खेले। एक गेंद एक रन। हमने रन आउट होने के लिए खुद का समर्थन किया। विकेट को देखें तो 7-14 से यह काफी धीमा था। आखिरी पांच ओवरों में यह स्किड होने लगा। कुछ अच्छे क्रिकेट शॉट्स के लिए वास्तव में अच्छा है। स्टोइनिस और पूरन ने बीच में से सब कुछ खेला। उन्होंने हमारे मुख्य गेंदबाज हर्षल पटेल की इस मैच में जमकर कुटाई हुई। मुझे ना चाहते हुए भी उन्हें गेंदबाजी देनी पड़ी थी। जिसका खामियाजा हमें हार कर चुकाना पड़ा”

फाफ ने पड़े विराट कोहली के नाम के कसीदे

पहले बल्लेबाजी करते हुए फाफ डू प्लेसिस बल्ले से संगर्ष कर रहे थे। जिस वजह से उन्होंने ज्यादा से ज्यादा स्ट्राइक विराट कोहली को थमाई। जिसके चलते आरसीबी की टीम को एक ठोस शुरूआत मिल सकी। इसी के साथ ही पारी को मजबूत आयाम फाफ ने खुद ही दिया था। कोहली को लेकर फाफ ने कहा कि,

“डेथ ओवर गेंदबाजी करना एक कठिन काम होता है। यहा गेंदबाजो की जमकर सुताई हो सकती है। आपको अपने खेल में शीर्ष पर रहना होगा। मैं अपनी पारी के ज्यादातर हिस्से में संघर्ष कर रहा था। कोहली को स्ट्राइक बैक देकर खुश था, कभी-कभी आपको स्क्रैच करना पड़ता है। जब मैंने बीच में से कुछ मारना शुरू किया तो मुझे अपना प्रवाह वापस मिल गया।” 

बता दे कि फाफ डू प्लेसिस ने लखनऊ की टीम के खिलाफ आक्रामक रवैया अपनाते हुए 44 गेंदो में 79 रनों की आतिशी पारी खेली। उनकी पारी में 5 चौके और 5 ही छक्के शामिल रहे।