पंजाब के खिलाफ धमाकेदार जीत के बाद भी भड़के रोहित शर्मा, इस वजह से पूरी टीम को लिया आड़े हाथ

रोहित शर्मा : आईपीएल 2023 का 46वां मुकाबला पंजाब किंग्स बनाम मुंबई इंडियंस के बीच खेला गया। यह मुकाबला मौहाली के पंजाब क्रिकेट असोशिएशन में खेला गया। इस मैच पंजाब की टीम ने मुंबई की टीम के सामने 215 रनों का विशालकाय लक्ष्य रखा था। जिसका बीछा करते हुए मुंबई की टीम ने महज 18.5 गेंदो में ही लक्ष्य को हासिल कर लिया। मुंबई ने पंजाब को 6 विकेट से हराया। इस जीत के साथ ही कप्तान रोहित शर्मा ने इस जीत का श्रेय सूर्यकुमार यादव और  ईशान किशन को देते हुए एक बड़ी प्रतिक्रिया दी है। वहीं उन्होंने अपनी टीम के सभी गेंदबाजो को जमकर लताड़ा भी है।

रोहित शर्मा ने जीत का श्रेय इन दों खिलाड़ियों को दिया

"जीत तो गए हैं लेकिन...", पंजाब के खिलाफ धमाकेदार जीत के बाद भी भड़के रोहित शर्मा, इस वजह से पूरी टीम को लिया आड़े हाथ

54 रनों स्कोर पर 2 विकेट गिरने के बाद सूर्या और ईशान किशव ने शतकीय साझेदारी कर टीम को मुश्किलों से ऊभारा। वहीं दोनों ने अपना-अपना अर्धशतक भी पूरा किया। वहीं दोनों ने आउट होने से पहले मुंबई को जीत के काफी करीब पहुंचा दिया था। इसी पर रोहित शर्मा ने कहा कि,

“जब हमने टी20 प्रारूप की शुरुआत की थी तो 150 विजयी स्कोर था। एक अतिरिक्त बल्लेबाज भी बहुत बड़ा अंतर डालता है। इस सीजन में औसत स्कोर लगभग 180 है, मैं चेक कर रहा था। स्काई कुछ ओवरों से ऐसा कर रहा है। विकेट के पीछे खेलना उसकी ताकत है। उन्होंने इसका बखूबी इस्तेमाल किया। किशन और स्काई ने शानदार बल्लेबाजी की। सीज़न की शुरुआत से पहले, हमारे बीच बातचीत हुई कि हम अपना क्रिकेट कैसे खेलना चाहते हैं। नतीजों के बारे में ज्यादा नहीं सोचना चाहिए।”

ईशान मेहनत कर रहा है- रोहित शर्मा

मुंबई के गेंदबाज इस मैच में पूरी तरह से पिटते हुए नजर आए। इस दौरान जोफ्रा आर्चर की सबसे ज्यादा सुताई हुई। इस मैच में रोहित सर्मा अपने गेंदबाजो से काफी ज्यादा निराश नजर आ रहे है। इसी पर रोहित शर्मा ने आगे कहा कि,

“हम वहां जाना चाहते हैं और बस खुद को अभिव्यक्त करना चाहते हैं। आप इधर-उधर के खेल हारेंगे। हम इस खाके से चिपके रहना चाहते हैं। किशन शक्तिशाली है, वह इस तरह के शॉट्स का अभ्यास करता है। वह पिछले कुछ हफ्तों से वास्तव में कड़ी मेहनत कर रहा है। मैं एक चिंताजनक कारक नहीं कहूंगा। लेकिन हमें यह सोचने की जरूरत है कि ओवरों को कैसे बंद किया जाए। तीन से चार मैचों में हमने 200 से ज्यादा गंवाए हैं। जब दबाव होता है तो आपको वही करना होता है जो आपके लिए सबसे अच्छा हो।”

गौरतलब है कि ईशान किशन ने इस मैच में 41 गेंदो का सामना करते हुए 75 रनों की पारी खेली। उनकी पारी में 7 चौके और 4 छक्के शामिल रहे।