नीतीश राणा ने इस सीनियर खिलाड़ी से सलाह लेकर वरुण को दिया था आखिरी ओवर, जीत के बाद खोला राज

SRH vs KKR: 4 मई को नीतीश राणा की अगुवाई में कोलकाता नाइट राइडर्स ने सनराइज़र्स हैदराबाद को कड़ी शिकस्त दी। राजीव गांधी इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने उतरी केकेआर की टीम ने 9 विकेट गंवाकर 172 रन का लक्ष्य खड़ा किया। जिसको हासिल करने में एडेन मार्करम की टीम नाकाम रही। लिहाजा, नाइट राइडर्स की 5 रन से जीत हुई। ऐसे में चलिए जानते हैं कि इस जीत पर कप्तान राणा का क्या कहना है?

नीतीश राणा ने अपनी रणनीति का किया खुलासा

नीतीश राणा

सनराइज़र्स हैदराबाद के खिलाफ़ कोलकाता नाइट राइडर्स के गेंदबाज़ों ने शानदार प्रदर्शन दिखाया। उनकी कातिलाना गेंदबाज़ी के बूते ही टीम ने धमाकेदार जीत दर्ज की। ऐसे में पोस्ट मैच प्रेज़न्टैशन के दौरान बातचीत करते हुए नीतीश राणा ने बोलर्स की जमकर तारीफ़ की। उन्होंने कहा,

“बीच के ओवरों में मुकाबला हमारे हाथों से निकलता हुआ नजर आ रहा था। ऐसे में मैंने शार्दुल और वैभव पर दांव खेला और उन्होंने सेट बल्लेबाजों का विकेट हासिल कर टीम को सफलताएं दिलाई। इस तरह हमने इस खेल में वापसी की। हमें उन्हें आउट करना था क्योंकि अगर वे अंत तक बल्लेबाजी करते तो निश्चित रूप से खेल हमारी पहुंच से बाहर हो जाता।”

यह भी पढ़ें: IPL 2023 में इन 3 खूबसूरत स्टार किड्स ने बटोरी सुर्खियां, लिस्ट में भारतीय क्रिकेटर की पत्नी भी शामिल

नीतीश राणा ने शार्दुल ठाकुर से ली सलाह

बात को आगे बढ़ाते हुए नीतीश राणा ने बताया कि वह मुकाबले के दौरान असमंजस में पड़ गए थे कि गेंदबाज़ी करने के लिए स्पिनर्स को भेजे या तेज़ गेंदबाज़ों को। ऐसे में वह सलाह लेने के लिए शार्दुल ठाकुर के पास गए और इसके बाद उन्होंने वरुण चक्रवर्ती को गेंदबाज़ी के लिए भेजा। जिसने अपनी बेहतरीन गेंदबाज़ी से टीम को जीत दिलाई। राणा ने खुलासा किया,

मुझे संदेह था कि क्या मुझे स्पिनर्स के साथ जाना चाहिए या तेज़ गेंदबाज़ों के साथ। इसलिए मैं शार्दुल ठाकुर के पास सलाह लेने के लिए शार्दुल के पास गया और तब मैंने अपना आज का बेस्ट गेंदबाज (वरुण चक्रवर्ती) चुना। मैं हमेशा देखता हूं कि खेल में सबसे अच्छा स्पिनर कौन है और इसी तरह मैं तय करता हूं कि किस खिलाड़ी का इस्तेमाल करूं।

गौरतलब यह है कि आखिरी ओवर में सनराइज़र्स हैदराबाद को जीत के लिए 9 रनों की दरकार थी। ऐसे में गेंदबाज़ी के लिए कप्तान ने वरुण चक्रवर्ती को भेजा। जिसके बाद वह कप्तान की उम्मीदों पर खड़ी उतरे और अपनी कसी हुई गेंदबाज़ी के बूते टीम को 5 रन से मैच जिताया। उन्होंने 20वें ओवर में महज तीन रन ही खर्च किए। वरुण ने तीन ओवरों में गेंदबाजी की और केवल 8 रन दिए, जबकि समद का महत्वपूर्ण विकेट लिया।

यह भी पढ़ें: 5 बड़े क्रिकेटर, जिनसे लाइव मैच में पंगे ले चुके हैं विराट कोहली, लिस्ट में टीम में 3 कप्तान का नाम भी है शामिल