CSK को हराने के आखिरी गेंद तक लड़े मोहित शर्मा, 9 साल पहले धोनी पर कर चुके हैं बड़ा एहसान

चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग के 16वें संस्करण में गुजरात टाइटंस के गेंदबाज मोहित शर्मा की कातिलाना गेंदबाजी देखने को मिली। 29 मई को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम में अपनी पूर्व टीम के सामने शर्मा ने धमाकेदार प्रदर्शन कर सबको हैरान कर दिया। उन्होंने गुजरात को जीत दिलाने के लिए जी-जान लगा देगी। उनकी इस परफ़ॉर्मेंस को देख सीएसके को उन्हें रिलीज करने का काफी दुख हुआ होगा।

सीएसके का कर चुके हैं मोहित शर्मा प्रतिनिधत्व

मोहित शर्मा

दरअसल, मोहित शर्मा ने साल 2013 में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते हुए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ आईपीएल डेब्यू किया था। उन्होंने विस्फोटक प्रदर्शन कर उस सीजन 15 मैच में 20 विकेट हासिल की। इसके बाद लगातार दो साल तक सीएसके ने उन्हें अपने साथ जोड़े रखा। यानी 2014 और 2015 में वह चेन्नई का हिस्सा रहे।

इस बीच आईपीएल 2014 में मोहित ने कुल 23 विकेट ली और पर्पल कैप के हकदार बने। लेकिन इसके बाद उनका प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा। जिसके चलते फ्रेंचाइजी ने उनको रिलीज कर दिया। फिर आईपीएल 2019 में उन्हें एक बार फिर चेन्नई का साथ मिला। हालांकि, इसमें कप्तान एमएस धोनी ने एक ही मैच खेलें का मौका दिया और आईपीएल 2020 से पहले उन्हें टीम से बाहर का रास्ता दिखाया।

यह भी पढ़ें: गुजरात के लिए शतक जड़कर शुभमन गिल ने विराट को दिया श्रेय, तो ‘रुमर ससुर’ सचिन तेंदुलकर को लेकर किया सनसनीखेज खुलासा

मोहित शर्मा ने की धमाकेदार वापसी

मोहित शर्मा

गौरतलब यह है कि मोहित शर्मा ने आईपीएल 2020 में दिल्ली कैपिटल्स के लिए एक मुकाबला खेला। लेकिन इस दौरान उनके पिता का निधन हो गया। जिसकी वजह से उन्होंने टूर्नामेंट बीच में ही छोड़ दिया। इसके बाद उन्हें दो साल तक कोई खरीदार नहीं मिल सका। हालांकि, 2022 में गुजरात टाइटंस ने उन्हें अपना नेट बॉलर बनाया। जहां उन्होंने शानदार प्रदर्शन और अपना जुनून दिखाया। जिसके चलते आईपीएल 2023  मिनी ऑक्शन में गुजरात ने उनपर दांव खेला।

ऐसे में उन्होंने टीम मैनेजमेंट की उम्मीदों पर खड़ा उतरते हुए अपना सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन पेश किया। उन्होंने 14 मैच में 27 विकेट झटकाई। जबकि फाइनल मैच में चेन्नई के खिलाफ उन्होंने तीन विकेट हासिल की और विपक्षी टीम के लिए मुसबीत साबित हुए। वह भले ही टीम को जीत नहीं दिला सके लेकिन उनकी परफ़ॉर्मेंस ने खासा प्रभावित किया।

यह भी पढ़ें: IPL 2023 के बाद कभी खेलते हुए नजर नहीं आएंगे यह 5 भारतीय दिग्गज, नंबर-3 को माना जाता है मलिंगा से भी घातक