Team India - Avesh Khan

ऑस्ट्रेलिया के साथ खेले जाने वाली तीन मैचों की एकदिवसीय सीरीज के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने टीम इंडिया (Team India) का ऐलान कर दिया है। भारतीय खेमे में कई खिलाड़ियों को शामिल किया गया है। जहां के तरफ जयदेव उनादकट जैसे गेंदबाज की दस साल बाद ODI टीम में वापसी हुई तो वहीं कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हैं जिन्हें नजरअंदाज किया गया है। इन्हीं में से एक ऐसा मैच विनर खिलाड़ी जिसको भारतीय चयनकर्ता लगातार अनदेखा कर रहे हैं। जिसकी वजह से इस खिलाड़ी का वनडे और टी20 करियर खत्म होने की कगार पर पहुंच चुका है।

Team India के इस धाकड़ खिलाड़ी की मुश्किल हुई टीम में एंट्री

Bhuvneshwar Kumar: Team India

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले जाने वाली एकदिवसीय सीरीज में भारतीय टीम चयनकर्ताओं ने कई खिलाड़ियों को मौका नहीं दिया है। इन्हीं में से एक हैं भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar)। भुवी को पिछले कुछ समय से टीम में जगह नहीं मिल रहे हैं। सिलेक्टर्स उन्हें लगातार नजरअंदाज कर रहे हैं। लेकिन कंगारू टीम के लिए वनडे सीरीज में उनका चयन नहीं करने के बाद से यह साबित हो गया है कि उनकी टीम में कभी वापसी नहीं हो सकती है। टीम (Team India) में उनका कमबैक नामुमकिन नजर आ रहा है। लिहाजा, उनके पास संन्यास लेने के अलावा और कोई विकल्प नजर नहीं आ रहा है।

Team India के लिए किया है निराशाजनक प्रदर्शन

Bhuvneshwar Kumar: Team India

दरअसल,भुवनेश्वर कुमार के साथ हो रहे इस सलूक की वजह है उनका प्रदर्शन। क्योंकि कप्तान रोहित शर्मा और हेड कोच राहुल द्रविड़ ने जब भी उन्हें खुद को साबित करने का मौका दिया, उन्होंने निराशाजनक प्रदर्शन ही किया। जिसका बाद अब रोहित-राहुल का भरोसा उनपर से उठ चुका है। भुवी को आखिरी बार पिछले साल जनवरी में साउथ अफ्रीका के खिलाफ एकदिवसीय मैच खेला था।

जबकि न्यूज़ीलैंड के साथ उन्हें नवंबर 2022 में आखिरी बार टी20 मैच खेलते हुए देखा गया था। उन्होंने इस बीच इतना खराब गेंदबाजी का नजराना पेश किया कि टीम में उमरान मलिक, अर्शदीप सिंह जैसे युवा तेज गेंदबाजों की जगह पक्की हो गई।

Team India की हार का बने विलेन

Bhuvneshwar Kumar

पिछले कुछ समय में भुवनेश्वर कुमार का परफ़ोर्मेंस ग्राफ नीचे गिरते हुए ही नजर आया है। उनकी गेंदबाजी में अब वो धार नहीं रही है जिसके लिए वह जाने जाते थे। कुमार की गेंदबाजी में न तो गति रही और न ही वह अपनी गेंदबाजी से विरोधी बल्लेबाजों में खौफ पैदा कर पा रहे हैं। इतना ही नहीं एशिया कप और टी20 वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में वह टीम इंडिया की हार का मुख्य कारण भी साबित हुए।

पिछले साल हुए इन दोनों टूर्नामेंट में भारत की हार के सबसे बड़े विलेन भुवनेश्वर ही थी। उन्होंने इस टूर्नामेंट में जमकर रन लुटाए और विकेट निकालने में कंजूसी दिखाई। इस परफ़ोर्मेंस के बाद उनका टीम में वापसी एंट्री करना मुश्किल ही है।