yuzvendra chahal kuldeep yadav

टीम इंडिया जून में इंग्लैंड दौरे पर न्यूजीलैंड के खिलाफ ICC वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप और इंग्लिश टीम के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने जा रही है. इसके लिए 24 सदस्यीय टीम का भी ऐलान किया जा चुका है और सभी सदस्य मुंबई में बायो बबल में हैं. लेकिन, एक बार फिर कुलदीप यादव (kuldeep yadav) जैसे युवा खिलाड़ियों को चयनकर्ताओं ने नजरअंदाज कर दिया है. इसी बीच युजवेंद्र चहल (yuzvendra chahal) ने अपनी स्पिन जोड़ी को लेकर बड़ा यान दिया है.

भारतीय टीम में मशहूर थी ‘कुलचा’ की जोड़ी

yuzvendra chahal

एक वक्त था जब टीम इंडिया में स्पिन गेंदबाज युजवेंद्र और कुलदीप की जोड़ी हर सीरीज में देखने को मिलती थी. इस जोड़ी ने भारतीय टीम के लिए कई मैच जिताऊ प्रदर्शन भी किए हैं. लेकिन, अचानक से पहले कुलदीप यादव टीम की प्लेइंग 11 से ड्रॉप किए गए और अब युजवेंद्र चहल (yuzvendra chahal) को भी टीम से बाहर कर दिया है.

‘कुलचा’ के नाम से लोगों के दिलों में खास जगह बना चुकी इस जोड़ी के टीम से बाहर होने के बाद से ही फैंस काफी ज्यादा निराश हैं. लेकिन, यह सवाल अभी भी लोगों के मन में घर किए हुए है कि, आखिर अचानक से टीम इंडिया में ऐसी कौन सी बात हुई कि इन दोनों को ही प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिल पाई और अब टीम से बाहर भी चल रहे हैं.

क्यों टूटी कुलचा की जोड़ी

929778 81092 ejakcihvyj 1517751903

सबसे पहले टीम इंडिया से कुलदीप यादव बाहर हुए और इसके बाद युजवेंद्र चहल (yuzvendra chahal). ऐसे में अब उन्होंने खुद से मसले को लेकर खुलासा किया है कि, भारतीय टीम ने कुलचा की इस जोड़ी को किस वजह से तोड़ा था. स्पोर्ट्स तक को दिए एक इंटरव्यू में बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि,

‘जब मैं और कुलदीप खेलते थे तो हार्दिक भी खेलते थे. साल 2018 में हार्दिक चोटिल हुए और उसके बाद टीम का कॉम्बिनेशन खराब हो गया था. लेकिन हार्दिक के ना होने से टीम को एक अतिरिक्त गेंदबाज खिलाना पड़ा और यही कारण रहा कि बाद में हम दोनों साथ में नहीं खेल सके.’

मेरे ना रहते हुए भी टीम जीतती है तब भी मुझे खुशी मिलती है

Yuzvendra Chahal Creates An Unwanted Record Becomes Most Expensive Indian Spinner In ODIs

इसी सिलसिले में आगे बात करते हुए चहल ने अपने बयान में युजवेंद्र चहल (yuzvendra chahal) ने कहा कि,

‘टीम 11 खिलाड़ियों से बनती है ना कि कुलचा की जोड़ी से. इस वजह से यदि मेरे बाहर रहने से टीम जीत रही है तो मुझे तब भी उतनी ही खुशी होगी लेकिन मैं खुद मेहनत करना नहीं छोडूंगा.’