युवराज सिंह

टीम मैनेजमेंट और कप्तान विराट कोहली टीम इंडिया में पिछले काफी वक्त से एक्सपैरिमेंट करते आ रहे हैं। साथ ही एक के बाद एक एक्सपैरिमेंट फेल भी होता जा रहा है। साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टी 20 मैच में भी बल्लेबाजी क्रम को नंबर-9 तक रखने का एक्सपैरिमेंट किया गया नतीजन हम मैच हार गए। असल में टीम में बैटिंग तो नंबर 9 तक थी लेकिन बॉलिंग में दम नहीं था। अब इस बात पर युवराज सिंह ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है…

मुझे नहीं लगता डीप बैटिंग की है जरूरत: युवराज सिंह

टीम में बल्लेबाजी में गहराई के बारे में युवराज सिंह ने स्पोर्ट्स तक को दिए इंटरव्यू में कहा,

“मेरे हिसाब से बहुत अजीब बात है कि आप इतनी डीप बैटिंग के बारे में सोच रहे हैं… क्योंकि पिछले 4-5 सालों में जब आईपीएल की टीम बनती है तो सबसे ज्यादा पैसा बॉलर्स पर लगाया जाता है। अगर आपके 3-4 मुख्य गेंदबाज नहीं होंगे तो बल्लेबाज जितने चाहें ऑलराउंड बॉलिंग कर लें उन्हें मार पड़ेगी ही।

जो भी थिंक टैंक है उन्हें समझना चाहिए कि टीम में मुख्य गेंदबाज होने ही चाहिए जैसे जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव और खासकर जब हम सपाट पिच पर खेलते हैं तो हमें अच्छे गेंदबाजों की जरूरत होती ही है।

इसलिए अगर हमें 2020 की टी 20 वर्ल्ड कप जीतना है तो अच्छी गेंदबाजी चाहिए… हां हमारे पास अच्छी बल्लेबाजी है जैसे विराट, रोहित और मिडिल ऑर्डर में देखें तो श्रेयस अय्यर अच्छा कर रहा है। रिस्ट स्पिनर्स को टीम में वापस लाने की जरूरत है क्योंकि अगर कोई बॉलर तेज बॉल फेंकता है तो मारना आसान होता है मगर जब बॉल धीमे आती है तो बल्लेबाज को तकलीफ होती ही है.”

यो-यो टेस्ट पास करने के बाद भी किया गया टीम से बाहर

युवराज सिंह

“युवराज ने कहा कि चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के बाद मैं आठ-नौ मैचों में से दो बार मैन ऑफ द मैच बना फिर भी मुझे ड्रॉप कर दिया गया। ऐसा मैंने कभी नहीं सोचा था। उसके बाद मैं चोटिल हो गया और मुझे श्रीलंका दौरे की तैयारी करने को कहा गया। इसके तुरंत बाद यो-यो टेस्ट की शुरुआत की गई। ये मेरे सेलेक्शन में बड़ा यू-टर्न था। अचानक मुझे वापस जाना पड़ा और 36 वर्ष की उम्र में यो-यो टेस्ट की तैयारी करनी पड़ी।”

आपको बता दें, युवराज सिंह ने विश्वकप 2019 के दौरान जब टीम इंग्लैंड में थी उसी वक्त संन्यास का ऐलान कर दिया था। हालांकि उसके बाद युवी अब विदेशी लीगों में अपना पैर जमा रहे हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *