hindustan prectise session stadium yuvraj mohali during e0b5ce52 3687 11e8 bfda ec16c1256850

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर खिलाड़ी युवराज सिंह ने संन्यास से वापसी की इच्छा जाहिर की है। उन्होंने अपने फैसले को लेकर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली को इस बारे में पत्र लिखा है। मगर अब सूत्रों की मानें, तो बीसीसीआई, युवी को संन्यास से वापसी की इजाजत नहीं दे सकती, क्योंकि उन्होंने बोर्ड की तरफ से पेंशन भी मिलती है।

युवराज सिंह ने बीसीसीआई को लिखा पत्र

युवराज सिंह

टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर युवराज सिंह ने पिछले साल अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर को अलविदा कहा था। मगर अब लॉकडाउन के दौरान उन्होंने पंजाब के खिलाड़ियों के साथ समय बिताया और युवा खिलाड़ियों की मदद भी की। युवराज ने बुधवार को ‘क्रिकबज’ से कहा,

‘मुझे युवाओं के साथ समय बिताने में मजा आया। मैंने खेल के विभिन्न पहलुओं के बारे में सभी से बात की और मुझे अच्छा लगा। इस दौरान उन्हें कुछ ऐलिमेंट्स दिखाने के लिए मुझे नेट पर उतरना पड़ा। मेरे लिए यह सुखद बात थी कि मैं गेंद को अच्छी तरह से हिट कर रहा था, जबकि मैं लंबे समय से बल्ले से दूर था।’

बीसीसीआई से मिलती है युवराज को पेंशन

भारतीय क्रिकेट टीम को टी20 विश्व कप 2007  व विश्व कप 2011 में खिताबी जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले युवराज सिंह का भारतीय क्रिकेट में योगदान कोई नहीं भुला सकता। युवी ने 10 जून 2019 को अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर को अलविदा कह दिया। मगर अब जब वह वापसी करने की तैयारी में हैं, तो बीसीसीआई की तरफ से शायद उन्हें ये इजाजत ना मिल सके। बीसीसीआई के अधिकारी ने एएनआई को बताया,

युवराज सिंह जैसे किसी दिग्गज के साथ युवा खिलाड़ियों को वक्त बिताने का मौका मिले, तो ये पंजाब की टीम के लिए बहुत अच्छी बात हो सकती है। लेकिन युवराज ने ना केवल एक बार रिटायरमेंट का फायदा उठाया है बल्कि उन्हें कथित तौर पर पेंशन भी मिलती है। लगभग 22,500 रुपये। जब से युवी ने संन्यास लिया है, तब से ये सब बीसीसीआई के खाते में है। अंतिम फैसला बोर्ड का होगा।

विदेशी लीग खेलते हैं युवी

download 8

युवराज सिंह ने संन्यास लेने के बाद बीसीसीआई से विदेशी लीग खेलने के लिए एनओसी मांगी थी। तब से वह विदेशी लीगों में बल्ला चलाते दिखें हैं। उन्होंने अबु धाबी टी10, ग्लोबल कनाडा टी20 लीग में हिस्सा लिया है। मगर अब युवराज क्रिकेट में वापसी करना चाहते हैं। हालांकि वह सिर्फ पंजाब के लिए