कीरोन पोलार्ड

युवराज सिंह ने 2007 में टी20आई क्रिकेट में एक ओवर के 6 छक्के लगकर इतिहास रच दिया था। इसके बाद ऐसा लगता था कि मानो युवी के इस रिकॉर्ड की कोई बराबरी तक नहीं कर सकेगा। लेकिन वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के विस्फोटक बल्लेबाज कीरोन पोलार्ड ने श्रीलंका के खिलाफ इतिहास दोहराते हुए टी20 क्रिकेट में एक ओवर में 6 छक्के जड़ दिए।

कीरोन पोलार्ड ने दोहराया 14 साल पुराना इतिहास

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के कप्तान कीरोन पोलार्ड ने श्रीलंका के खिलाफ खेले गए टी20 सीरीज के पहले मैच में 14 साल पुराने इतिहास को दोहराया। जी हां, पोलार्ड ने पहले टी20आई मैच में श्रीलंकाई स्पिनर अकीला धनंजय के एक ओवर में 6 छक्के जड़ दिए।

इसी के साथ युवराज सिंह और हर्शल गिब्स के रिकॉर्ड की बराबरी की है। युवराज और गिब्स दोनों ने ही इंटरनेशनल क्रिकेट में एक ओवर में छह छक्के लगाने का कारनामा किया है। हालांकि, युवराज ने टी20 और गिब्स ने वनडे में यह बड़ा रिकॉर्ड बनाया था। इस मैच में पोलार्ड ने 11 गेंदों पर 38 रन की धमाकेदार पारी खेली।

पोलार्ड की पारी से जीती वेस्टइंडीज टीम

श्रीलंका क्रिकेट टीम इस वक्त वेस्टइंडीज दौरे पर है। जहां, तीन मैचों की टी20आई सीरीज खेली जा रही है। सीरीज के पहले मैच में मेजबान वेस्टइंडीज की टीम ने शानदार जीत दर्ज की, जिसके हीरो रहे कप्तान कीरोन पोलार्ड।

पोलार्ड ने विंडीज की पारी के पांचवें ओवर में यह कारनामा किया और रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज कर लिया। पोलार्ड ने 11 गेंदों में शानदार 38 रन की पारी खेली, जिसमें यह 6 गेंदों पर लगातार 6 छक्के शामिल रहे। पोलार्ड ने युवराज सिंह के टी20 इंटरनेशनल में छह छक्के लगाने के 14 साल बाद इस रिकॉर्ड की बराबरी की है।

ओवर में 6 छक्के लगाने का वाले तीसरे बल्लेबाज कारनामा

कीरोन पोलार्ड

कीरोन पोलार्ड अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में एक ओवर में 6 छक्के लगाने वाले तीसरे खिलाड़ी बन गए हैं। वहीं टी20आई क्रिकेट में ये कारनामा करने वाले दूसरे खिलाड़ी बन गए हैं। 2007 में युवराज सिंह ने टी20 विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में 6 छक्के लगाए थे।

इसके बाद नीदरलैंड के खिलाफ 2007 विश्व कप में डान वैन बुंगे के एक ओवर में एकदिवसीय क्रिकेट में 6 छक्के लगाकर दूसरे खिलाड़ी बने थे, जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के एक ओवर में 6 छक्के लगाए थे। अब इस लिस्ट में कीरोन पोलार्ड का नाम भी शामिल हो गया है, वह ये कारनामा करने वाले तीसरे बल्लेबाज बन गए हैं।