Pic credit: Instagram

टी-20 विश्वकप पहली बार साल 2007 में खेला गया था। जहाँ भारतीय बल्लेबाज युवराज सिंह ने एक ही ओवर की छह गेंदों पर शानदार छह छक्के लगा दिए। इतिहास रच चुका था, इस खिलाड़ी का नाम हर किसी की जुबां पर था। यह गुनगुनाहट विश्वकप 2011 के फाइनल मुकाबले तक मौजूद थी।

2011 विश्वकप के दौरान कैंसर से जूझ रहे थे युवी 

जहां एक तरफ लोग युवराज के चर्चे कर रहे थे। वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसा हुआ जिसने साल 2011 के बाद युवराज सिंह को उन बेहतरीन पारियों के साथ धीरे-धीरे यादों में ढकेल दिया। वापसी हुई पर कैंसर का असर खेल और उनकी ताकत पर साफ झलकने लगा।

पिछले एक साल से टीम इंडिया से बाहर चल रहे युवराज सिंह के फैंस चाहते हैं कि एक बार फिर से वो टीम इंडिया में आए और अपने फैंस के लिए फेयरवेल मैच खेलें।

ट्रेनिंग कैंप से पहले युवराज ने शेयर किया पोस्ट

वैसे तो युवराज सिंह का हालिया प्रदर्शन और फिटनेस इस बात की गवाही कम ही देता है कि अब फिर युवराज सिंह मैदान पर देश के लिए वापसी कर पाएंगे। टीम इंडिया का ये वर्ल्डकप हीरो इन दिनों अपनी पत्नी हेज़ल कीच के साथ इंग्लैंड में हैं। जहां पर वो एक बार फिर एक नई शुरूआत करने की तैयारी कर रहे हैं। युवी ने अपने सोशल मीडिया पेज इंस्टाग्राम पर कुछ तस्वीरें और वीडियो शेयर किए।

इसके साथ युवी ने लिखा, ”अपने ट्रेनिंग कैंप से पहले दौड़ लगाकर खुद को तैयार कर रहा हूं. साथ ही खूबसूरत इंग्लिश मौसम का भी लुत्फ उठा रहा हूं। ये हेज़लकीच का बचपन का प्ले ग्राउंड है।”

युवी के इस पोस्ट को देखर फैंस ने भी सोशल मीडिया पर दरख्वास्त की कि वो एक बार फिर देश के लिए वापसी करें। आपको बता दें कि टीम इंडिया भी इन दिनों में इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज़ की तैयारी में जुटी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here