पाकिस्तान के पूर्व कप्तान यूनिस खान को लगता है कि बाबर आज़म की तुलना विराट कोहली से करना अनुचित है. यूनिस का मानना ​​है कि अगर तुलना की जानी है, तो इसे पांच साल बाद किया जाना चाहिए. विराट जहां एक लंबे समय से खेल रहे है, तो बाबर ने अपने करियर का आगाज 2015 में किया था.

हाल में ही यूनिस खान से पहले मोहम्मद युसूफ ने भी बाबर आजम और विराट कोहली के बीच तुलना करते हुए कोहली को सर्वश्रेष्ठ करार दिया था.

तुलना के लिए दो पांच साल का समय

विराट कोहली पिछले दस सालों से लगातार और निरंतर प्रदर्शन करते आ रहे है और कोहली ने हर एक कठिन परिस्तिथि में रन बनाकर टीम को जीत दिलाई है. यूनिस ने कहा कि बाबर आजम को पांच और साल दिए जाने चाहिए ताकि उनकी तुलना भारतीय कप्तान से की जा सके.गल्फ न्यूज़ के बातचीत के दौरान यूनिस ने कहा,

”देखिए, अभी कोहली 31 साल के हैं और इस समय वह अपने करियर की चरमसीमा पर हैं. अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उन्होंने सभी परिस्थितियों में खुद को साबित किया है. उन्होंने जो 70 अंतर्राष्ट्रीय शतक बनाए हैं, वह उनकी क्लास और क्षमताओं का प्रमाण है.

दूसरी तरफ, बाबर ने पांच साल पहले ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर डेब्यू किया है. वह पहले ही 16 शतक लगा चुके हैं और टेस्ट, वनडे में उनका औसत भी शानदार हैं. लेकिन फिलहाल दोनों के बीच तुलना करना जल्दबाजी होगी.”

कई रिकार्ड्स में कोहली को छोड़ चुके है पीछे

पाकिस्तान के सीमित ओवर के कप्तान बाबर आजम कई रिकार्ड्स में विराट कोहली को पीछे छोड़ चुके हैं. आजम ने क्रमशः 21, 45 और 68 पारियों में 1000, 2000 और 3000 एकदिवसीय रन पूरे किए थे। दूसरी ओर, कोहली क्रमशः 24, 53 और 78 पारियों में एक ही उपलब्धि हासिल कर पाए.

भारतीय कप्तान विराट कोहली अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जहां 70 शतक जमा चुके है, तो बाबर के बल्ले से भी 16 शतकीय पारियां देखने को मिली है. इसलिए यह कहना गलत नहीं होगा कि दोनों के खिलाड़ियों के अनुभव में काफी अंतर है.

लाहौर के 25 वर्षीय स्टाइलिश बल्लेबाज बाबर आजम ने 74 वनडे मैचों में 54.17 के शानदार औसत से 3359 रन बनाए हैं. दूसरी तरफ, 50 ओवर के संस्करण में कोहली ने 248 मैचों में 59.33 की औसत से 11867 रन बनाए हैं.

AKHIL GUPTA

क्रिकेट...क्रिकेट...क्रिकेट...इस नाम के अलावा मुझे और कुछ पता नहीं हैं. बस क्रिकेट...