VRP4964

इंडियन प्रीमियर लीग क्रिकेट जगत का सबसे बड़ा रोचक टी20 क्रिकेट लीग है। इस लीग में युवा खिलाड़ियों को अपने आपको साबित करने का बेहतरीन मंच प्रदान होता है। पिछले 12 सीजन से एक के बाद एक कई प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को आईपीएल के माध्यम से विश्व क्रिकेट को मिले। आईपीएल में युवा खिलाड़ियों के लिए ये सिलसिला जारी है।

कार्तिक त्यागी का जबरदस्त डेब्यू

कुछ इसी तरह से आईपीएल के इस लीग में भी कई युवा खिलाड़ियों को मौका मिला है। जिसमें कुछ खिलाड़ी तो अपने आप को खूब साबित करने में लगे हुए हैं। इस सीजन में भारतीय युवा खिलाड़ियों का जलवा दिखने को मिल रहा है।

PN 9116

इसी बीच एक और खिलाड़ी ने मंगलवार को अपना डेब्यू किया और बहुत ही जबरदस्त प्रदर्शन कर हर किसी को अपना मुरिद बना दिया है। यहां हम बात कर रहे हैं राजस्थान रॉयल्स के तेज गेंदबाज कार्तिक त्यागी की।

कार्तिक त्यागी ने पहले ही मैच किया हर किसी को प्रभावित

कार्तिक त्यागी को मंगलवार को मुंबई इंडियंस के खिलाफ मौका मिला। अपने पहले ही मैच में 19 साल के कार्तिक त्यागी ने बहुत ही शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने पहले ही मैच की 5वीं गेंद पर विकेट झटका। इसके साथ ही उन्होंने अपनी गेंदबाजी की गति से भी शानदार काम किया।

VRP4964

उत्तरप्रदेश के युवा तेज गेंदबाज कार्तिक त्यागी ने अपनी गेंदबाजी से पहचान तो इसी साल आईसीसी अंडर-19 विश्व कप में ही बना ली थी। इसके बाद इस युवा तेज गेंदबाज को आईपीएल में देखने के लिए हर कोई काफी उत्सुक था और आखिर में कार्तिक त्यागी ने अपनी गेंदबाजी से उत्सुक लोगों को प्रभावित किया है। जिसमें उन्होंने क्विंटन डी कॉक जैसे बड़े बल्लेबाज को पहले ही ओवर में चलता किया।

कार्तिक त्यागी जताया था रैना और प्रवीण कुमार का एहसान

वैसे कार्तिक त्यागी की बात करें तो उनके करियर में उनकी मेहनत से कभी इनकार नहीं किया जा सकता है, लेकिन साथ ही कार्तिक के करियर में सुरेश रैना का कमाल का योगदान रहा है। खुद कार्तिक ने सुरेश रैना का एहसान माना है।

Kartik Tyagi produces perfect yorker to uproot Irfan Khan’s stumps during U19 World Cup semi final

आईपीएल से पहले एक इंटरव्यू के दौरान कार्तिक त्यागी ने उत्तर प्रदेश के दो बड़े खिलाड़ी सुरेश रैना और प्रवीण कुमार को लेकर तारीफ में शब्द कहे थे। उन्होंने कहा था कि

रैना भैया का जो योगदान रहा है उसे हम कभी भूला नहीं सकते। मैंने रणजी ट्रॉफी कैंप में शामिल होने के लिए सीधे अंडर-16 से ही बुलावा आया। रैना भैया ने मुझे देखा था। कुछ दिनों के लिए उन्होंने चयनकर्ताओं से मुझे रणजी टीम में रखने के लिए कहा।”

मुझे ये भी  बनाता चाहिए कि कैसे पीके भाई(प्रवीण कुमार) ने भी मेरा समर्थन किया। रेलवे के खिलाफ मैच के दौरान रैना भैया मिड ऑफ पर खड़े थे और पीके भाई मिड-ऑन पर जो मेरा मार्गदर्शन कर रहे थे। वो ध्यान रख रहे थे कि मैं नर्वस ना होऊं।”