रोहित शर्मा

भारत में 10 साल पहले जितने भी खिलाड़ियों ने पर्दापण किया है. उसमें अधिकतर खिलाड़ी क्रिकेट के भगवान और दिग्गज सचिन तेंदुलकर का फैन खुद को बताते थे. लेकिन मौजूदा समय में भारतीय टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा ने भी उसी समय में अपनी क्रिकेट शुरू की थी. हालाँकि वो सचिन तेंदुलकर के बजाय दूसरे भारतीय खिलाड़ी के फैन थे.

रोहित शर्मा सचिन नहीं इस दिग्गज भारतीय के थे फैन

बचपन में भारतीय टीम के मौजूदा उपकप्तान रोहित शर्मा दिग्गज सचिन तेंदुलकर के नहीं बल्कि आक्रामक सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग के फैन थे. जिसका कारण सहवाग की आक्रामकता थी. वो मैदान पर पहली गेंद से ही शॉट खेलते हुए नजर आते थे. जिसके बारें में खुद रोहित ने एक इन्टरव्यू में बताया था. अपने शुरुआती करियर में रोहित शर्मा भी इसी अंदाज में खेलते हुए नजर आते थे.

हालाँकि मौजूदा समय में रोहित शर्मा और वीरेन्द्र सहवाग की बीच तुलना की जाती है. जोकि रोहित के सफलता की बड़ी कहानी बयान करता है. हालाँकि आज के समय में रोहित सचिन तेंदुलकर के भी बहुत बड़े फैन हैं. दोनों साथ में आईपीएल के दौरान मुंबई इंडियंस का हिस्सा हैं. सचिन और सहवाग दोनों दिग्गजों के साथ ही हिटमैन ने खेला हुआ है.

तेज गेंदबाज बनना चाहते थे रोहित शर्मा

विश्व कप 2019

जब रोहित शर्मा ने अपनी क्रिकेट शुरू किया उस समय वो तेज गेंदबाज बनना चाहते थे. लेकिन बाद में उन्होंने ऑफ स्पिन गेंदबाजी करना शुरू कर दिया. लेकिन उनके कोच दिनेश लाड ने उनमें बल्लेबाजी की प्रतिभा देखी और उन्हें इस क्षेत्र में काम करने को कहा. जिसके बाद से सब कुछ आज नजर आता है.

विश्व क्रिकेट के महान बल्लेबाजों में रोहित शर्मा का नाम नजर आता है. हालाँकि इसके अलावा हिटमैन को सोने का भी बहुत शौक हैं. जिसके बारें में खुद मौजूदा भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने बताया था. एक इन्टरव्यू के दौरान कोहली ने बताया था की रोहित कहीं भी सो सकते हैं. हालाँकि मैदान पर उनका खेल अलग ही नजर आता है.

तीनो फ़ॉर्मेट में सफल बल्लेबाज हैं अब रोहित शर्मा

रोहित शर्मा

चैंपियंस ट्रॉफी 2013 के बाद से रोहित शर्मा सीमित ओवर क्रिकेट में लगातार अच्छा कर रहे थे. जिसके कारण ही उन्हें हिटमैन का नाम दिया गया है. लेकिन पिछले साल उन्होंने टेस्ट फ़ॉर्मेट में भी सलामी बल्लेबाजी करना शुरू कर दिया. जिसके बाद इस फ़ॉर्मेट में भी उन्होंने सफलता हासिल किया. आज हिटमैन तीनो फ़ॉर्मेट में भारतीय टीम के लिए सफल सलामी बल्लेबाज कहे जाते हैं.