Wriddhiman Saha

Wriddhiman Saha को इंटरव्यू न देने पर पत्रकार ने धमकी दी थी, जिसके बाद साहा ने ट्विटर पर उस पत्रकार के साथ हुई बातचीत का स्क्रीनशॉट शेयर किया। इसके बाद से इस मामले ने तूल पकड़ना शुरु कर दिया। Wriddhiman Saha के पक्ष में कई पूर्व क्रिकेटर्स भी मैदान में उतरे। रवि शास्त्री से लेकर कई खिलाड़ियों ने बोर्ड से पत्रकार के खिलाफ एक्शन की मांग की है। भारतीय क्रिकेटर्स एसोसिएशन (ICA) ने ‘पत्रकार’ विवाद में भारतीय विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा के पक्ष में अपना बयान जारी किया है।

ICA ने की पत्रकार की मान्यता रद्द

Wriddhiman Saha

ICA ने BCCI इवेंट्स में पत्रकार की मान्यता को खत्म करने की भी मांग की है। अपने बयान में उन्होंने आगे कहा,

“हम इस बात को समझते हैं कि हमारे खेल और खिलाड़ियों के लिए मीडिया एक अहम रोल अदा करता है, लेकिन किसी को भी अपनी सीमा पार नहीं करनी चाहिए। Wriddhiman Saha के साथ जो भी हुआ वह पूरी तरह से स्वीकार योग्य नहीं है। ऐसे में सभी संस्थाओं से अनुरोध है कि वह सुनिश्चित करें कि ऐसा आगे कभी न हो।”

Wriddhiman Saha पत्रकार का नाम सार्वजनिक करें

पूर्व क्रिकेटर अशोक मल्होत्रा के नेतृत्व में भारतीय क्रिकेटर्स एसोसिएशन ने Wriddhiman Saha के पक्ष में अपना बयान जारी किया है। ICA ने अपने बयान में कहा,

‘ICA एक पत्रकार द्वारा साहा को दिए गए धमकी की आलोचना करता है और हम बोर्ड के उस फैसले का समर्थन करते हैं जिसमें उन्होंने पत्रकार के खिलाफ जांच करने का निर्णय लिया है। हम बोर्ड से पत्रकार के खिलाफ कड़े एक्शन की मांग करते हैं।’

ICA के अध्यक्ष अशोक मल्होत्रा ने आगे कहा,

‘हमारा उद्देश्य क्रिकेटर्स के हित के लिए काम करने का है और हम किसी से भी इस तरह के व्यवहार को सही नहीं ठहराते, चाहे वो पत्रकार हो या कोई और मैं साहा से गुजारिश करता हूं कि वह पत्रकार का नाम पब्लिक डोमेन में लेकर आएं। हम उनके साथ खड़े हैं।’

साहा ने किया पत्रकार का नाम बताने से इनकार

Wriddhiman Saha

इंडियन एक्सप्रेस को दिए इंटरव्यू में Wriddhiman Saha ने कहा कि वह बीसीसीआई के आगे उस जर्नलिस्ट का नाम नहीं लेंगे। साहा ने कहा,

“मेरी अभी तक बीसीसीआई से इस बारे में कोई बातचीत नहीं हुई है। अगर वह मुझसे जर्नलिस्ट का नाम शेयर करने के लिए कहेंगे, तो मैं ऐसा नहीं करूंगा क्योंकि मैं किसी के भी करियर से खिलवाड़ी नहीं करना चाहता हूं। इसलिए मैंने ट्वीट में भी उस जर्नलिस्ट का नाम नहीं शेयर किया था। मेरे मां-बाप ने मुझे यह नहीं सिखाया है। मैंने वह ट्वीट इसलिए शेयर किया था कि मैं दिखाना चाहता था कि मीडिया में कुछ जर्नलिस्ट ऐसा भी करते हैं।”