Wriddhiman Saha
Wriddhiman Saha

भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला जा रहा कानपुर टेस्ट मैच बहुत ही रोमांचक तरीके से आगे बढ़ रहा है। भारत ने कीवी टीम को 284 रनों का लक्ष्य दिया, जिसे हासिल करने के लिए वह सर्वश्रेष्ठ के साथ उतरी है। हालांकि भारत की दूसरी पारी में 61* रनों की नाबाद पारी खेलने वाले Wriddhiman Saha 5वें दिन दस्तानों के साथ नजर नहीं आए। बीसीसीआई ने इस बात की जानकारी दी कि साहा गले में जकड़न की समस्या से जूंझ रहे हैं।

Wriddhiman Saha नहीं हैं फिट

न्यूजीलैंड के साथ खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के 5वें और अंतिम दिन विकेटकीपर बल्लेबाज Wriddhiman Saha ने बल्लेबाजी तो की, लेकिन एक बार फिर विकेटकीपिंग के लिए मैदान पर नहीं उतरे और उनकी जगह​ केएस भरत एक और विकेट के पीछे की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं।

पहली पारी में भी उन्हें गले में जकड़ने की समस्या थी और वह तीसरे दिन कीपिंग करने नहीं आए थे। अब एक बार फिर दस्तानों की जिम्मेदारी भरत को सौंपी गई है। साहा को लेकर बीसीसीआई ने बयान जारी करते हुए लिखा- ‘चौथ दिन मैच की दूसरी पारी में कीपिंग के दौरान रिद्धिमान साहा की गर्दन में अकड़न महसूस हुई थी। विकेटकीपिंग के दौरान यह उनके मूवमेंट को प्रभावि कर रहा था। ऐसे में केएस भरत पांचवें दिन भी उनकी गैरमौजूदगी में विकेटकीपिंग करेंगे।’

Wriddhiman Saha ने खेली शानदार अर्धशतकीय पारी

Wriddhiman Saha
Wriddhiman Saha

टीम इंडिया के बेहतरीन विकेटकीपर Wriddhiman Saha ने रविवार को उन सभी आलोचकों को बल्ले से करारा जवाब दिया, जो उनकी बल्लेबाजी पर सवाल उठा रहे थे। साहा ने 4 साल बाद अपनी टीम के लिए अर्धशतकीय पारी खेली। ये पारी उस वक्त आई, जब भारत को इसकी काफी जरुरत थी।

साहा ने 61 (126) रनों की नाबाद पारी खेलकर भारत को 283 रन की अहम बढ़त बनाने में अहम भूमिका निभाई। याद हो, इससे पहले 2017 श्रीलंका दौरे पर उनके बल्ले से आखिरी अर्धशतक निकला था। जहां, उन्होंने 67 रन बनाए थे। इसके बाद से उनके बल्ले से बड़ी पारी नहीं निकल सकी। अब यकीनन इस पारी ने अनुभवी विकेटकीपर को आत्मविश्वास दिया होगा।