maxresdefault 1
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

कहा जाता है, “बिना गुरू के ज्ञान का मिलना असम्भव है”. यही कहावत क्रिकेट में भी लागू होती है. क्रिकेट के मैदान में किसी भी टीम की सफलता में उसके गुरु यानी कोच का बड़ा हाँथ होता है. इसी कारण सफलता के बाद जब पूरी टीम का गुणगान किया जाता है तो जरूरी है कि कोच को भी सर्वोच्च स्थान दिया जाना चाहिए.

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अब तक कई ऐसे कोच रहे हैं जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में तो बड़ा नाम कमाया. लेकिन कोचिंग के मामले में उन्हें वैसी सफलता हासिल नहीं हुई जैसी खिलाड़ी के रूप में मिली. कपिल देव और ग्रेग चैपल जैसे दो दिग्गज खिलाड़ी इसके उदाहरण कहे जा सकते हैं.

लेकिन ऐसा नहीं है कि एक सफल खिलाड़ी ही सफल कोच बन सकता है.  इस आर्टिकल में हम उन पांच कोच के बारे में बताने जा रहे जिन्होंने क्रिकेट की दुनिया में कोच के रूप में जबरदस्त कामयाबी हासिल की है.

5. डेव वॉटमोर

Dav Whatmore

अगर क्रिकेट की दुनिया में अब तक के 5 सबसे सफल कोच की बात होगी तो डेव वॉटमोर का नाम इनमें जरूर शामिल होना चाहिए. श्रीलंका में जन्मे डेव वॉटमोर बचपन में ही ऑस्ट्रेलिया जाकर बस गए थे. बाद में वे एक बल्लेबाज़ के रूप में उभरे और उनकी टीम थी विक्टोरिया. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की ओर से सात टेस्ट मैच भी खेला है.

वर्ष 1996 में उन्होंने कोच के रूप में श्रीलंका को विश्व कप ख़िताब जितवाया था. वे कुछ समय के लिए लंकाशायर के कोच भी रहे और उन्होंने अपने क्लब को तीन वनडे ट्रॉफ़ी भी जितवाई. श्रीलंका के कोच में कुछ समय बिताने के बाद उन्होंने वर्ष 2003 में बांग्लादेश से नाता जोड़ा और उस समय वे उसके साथ जुड़े हैं.

माना जाता है कि उनके कोच रहते बांग्लादेश ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शानदार सुधार दिखाया था. इसी कारण डेव वॉटमोर को हमारी इस लिस्ट में पांचवां स्थान मिला है.

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse