क्रिकेट का सबसे बड़ा टूर्नामेंट आईसीसी विश्वकप इस साल 30 मई से इंग्लैण्ड और वेल्स में शुरू होने वाला है. इस बड़े टूर्नामेंट से पहले सभी देशों ने अपने टीम के सबसे बेहतरीन खिलाड़ीयों का चयन किया. लेकिन सभी देशों के चयनकर्ताओ ने कई बेहतरीन खिलाड़ियों को टीम में जगह न देकर सभी को चौका दिया. इन खिलाड़ियों का टीम में न होना एक चूक भी है.

वर्ल्डकप का पहला मैच ओवल में खेला जाएगा जबकि फाइनल प्रतिष्ठित लॉर्ड्स में होगा. आइये देखते हैं उन पांच खिलाड़ी को जिनको टीम में जगह न देना चूक बन सकता है.

# 1. भारत- ऋषभ पंत 

विश्व कप के लिए 15 सदस्यीय टीम से ऋषभ पंत बस अनुभव की कमी के कारण चूक गए. भारत के लिए 9 टेस्ट, 5 एकदिवसीय और 15 टी 20 मैचों में खेलने के बाद, उन्हें एमएस धोनी के बाद विकेटकीपर के रूप में माना जाता है. उन्होंने टी 20 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी शुरुआत बेंगलुरु में इंग्लैंड के खिलाफ किया.

ऋषभ पंत ने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में एक एक शतक भी लगाया है. भले ही पंत ने बल्ले से अच्छा प्रदर्शन किया. लेकिन उनकी विकेट कीपिंग स्किल्स के जांच के बाद दिनेश कार्तिक को अनुभव के कारण रिजर्व कीपर के रूप में पसंद किया गया.

# 2. ऑस्ट्रेलिया – पीटर हैंड्सकाम्ब

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड ने उस समय सबको चौंका दिया. जब वर्ल्डकप के लिए 15 सदस्यीय टीम में विकेटकीपर पीटर हैंड्सकाम्ब को जगह नहीं दिया. जबकि एलेक्स कैरी को टीम में शामिल किया गया. जबकि अगर किसी कारण से एलेक्स कैरी चोटिल हो जाते हैं, तब पीटर हैंड्सकाम्ब उनकी जगह टीम में शामिल होंगे. अगर पिछले एक साल के आंकड़ो को देखे तो पी हैंड्सकाम्ब ने कई बार मध्यक्रम में अच्छी बल्लेबाजी करते हुए टीम को संकट से निकाला है. इस आधार पर पीटर हैंड्सकाम्ब को टीम जगह मिलनी चाहिए.

# 3. इंग्लैंड – जोफ्रा आर्चर 

वेस्ट इंडीज मूल के खिलाड़ी जोफ्रा आर्चर इंग्लैंड की तरफ से प्रथम श्रेणी की क्रिकेट खेलते हैं. इंग्लैंड में ‘ससेक्स’ के लिए प्रथम श्रेणी का मैच खेलते हैं. उन्होंने 23.44 की औसत से 131 विकेट लिए हैं और इस क्रम में 1000 से अधिक रन बनाए हैं. इसके अलावा, वह एक अच्छे फील्डर भी हैं. इस आंकड़ो के आधार पर उनको इंडियन प्रीमियर लीग में स्थान पाने में मदद मिली. लेकिन  इंग्लैण्ड की वर्ल्डकप की टीम में उनकों जगह नहीं मिली.

हालंकि वर्ल्ड कप से पहले पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले वनडे सीरीज उनको टीम में जगह मिला है. अगर इस सीरिज में वे अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो कही हो सके तो वर्ल्ड कप के लिए सटैंड बाई के रूप में जा सकते हैं.

# 4. श्रीलंका – दिनेश चांदीमल 

श्रीलंका के पूर्व कप्तान दिनेश चांदीमल को श्रीलंका की वर्ल्डकप में जगह नहीं मिली है. विकेटकीपर  बल्लेबाज दिनेश चांदीमल ने कई बार टीम के लिए अपनी बल्ले से योगदान दिया. यहाँ तक कि पिछले साल इंग्लैंड की टीम के साथ हुए घरेलु सीरिज में कप्तान भी थे और इस सीरिज के दौरान उन्होंने बल्ले से काफी अच्छा प्रदर्शन किया. मध्यक्रम के बल्लेबाज दिनेश चांदिमल ने 146 वनडे में 3599 रन बनाये हैं.

# 5. न्यूजीलैंड-टीम सेफर्ट

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड जब वर्ल्ड कप के लिए टीम की घोषणा कर रही थी. इसके लिए पहले से ही स्पष्ट था कि वो एक ऐसा बैक अप विकेटकीपर को देख रहे हैं, जो विकेटकीपिंग के साथ बल्लेबाजी भी कर सके. जिसके लिए टीम सेफर्ट पर सबका ध्यान था, टीम सेफर्ट भारत के खिलाफ होने वाली टी-20 में 150 से अधिक के स्ट्राइक रेट के साथ बल्लेबाजी किया. वो एक अच्छे फिनिशर भी हैं, लेकिन वर्ल्डकप के लिए उनको न चुन कर टॉम ब्लेंडम को शामिल किया गया.

आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे जल्दी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आप तक पहुंचा सके।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *