इंडियन प्रीमियर लीग का 11 वां सीजन शुरू होने से पहले सनराइजर्स हैदराबाद को लेकर फैन्स चिंता जाहिर कर थे. ऐसा इसलिए क्योंकि टीम के नियमित कप्तान डेविड वार्नर बॉल टेंपरिंग में दोषी पाए जाने के बाद आईपीएल से बैन हो गए. सबको लगने लगा कि वार्नर के बिना इस टीम की नैया पार कौन लगाएगा. सबका मानना था कि इस कंगारू खिलाड़ी को यह टीम इस सीजन बहुत मिस करेगी लेकिन अभी तक ऐसा नहीं हुआ. फिलहाल अंकतालिका में यह टीम शीर्ष पर बनी हुई है.

वार्नर की जगह केन विलियम्सन को टीम की कमान सौपी गयी जिसका अभी तह इस किवी खिलाड़ी ने शानदार तरीके से निर्वाह किया है. केन ने अब तक 11 मैचों में 61.62 की शानदार औसत से कुल 493 रन बनाए हैं. इसी खिलाड़ी की बदौलत यह टीम कई मुकाबले आसानी से जीत पहली प्लेऑफ में पहुंचने वाली टीम बन गयी.
यही तो वजह से कि केन की चौतरफा सराहना हो रही है. हर कोई इनकी कप्तानी का मुरीद हुआ जा रहा है. कुछ लोग केन की तुलना महेंद्र सिंह धोनी से कर रहे हैं. टीम के साथ साथ कप्तान केन विलियम्सन के प्रदर्शन पर कोच भी उनकी तारीफ कर रहे हैं. हैदराबाद के मुख्य कोच टॉम मूडी ने शनिवार को केन की तारीफ करते हुए कहा कि, “आईपीएल के इस सत्र में विलियमसन के प्रदर्शन से आश्चर्यचकित नहीं हैं क्योंकि न्यूजीलैंड के इस खिलाड़ी ने टी 20 प्रारूप में कई वर्षों से शानदार प्रदर्शन किया है.”
मूडी ने कहा, “ईमानदारी से कहूं तो यह हमारे लिए बिल्कुल भी हैरान करने वाला नहीं हैं. विलियमसन पिछले कई वर्षों से टी 20 प्रारूप के शानदार खिलाड़ी रहे हैं. यह वास्तव में लोगों के लिए केन विलियमसन की बहुमुखी प्रतिभा को देखने का एक अवसर है.”
उन्होंने कहा, “विलियमसन ने टी 20 में शतक लगाया है, मुझे लगता है कि उन्होंने ऐसा चार साल पहले चैंपियंस लीग में किया था. इस बात में कोई आश्चर्य नहीं है कि विलियमसन के पास टेस्ट मैचों से एकदिवसीय और टी 20 प्रारूप में खुद को ढालने की क्षमता है. यही कारण है कि हमने उसे चार साल पहले टीम से जोड़ा था.”