PN 8479

आईपीएल के मौजूदा सीजन महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व वाली चेन्नई सुपर किंग्स बेहद खराब प्रदर्शन का नजारा देखने को मिला। जो चेन्नई सुपर किंग आईपीएल के पिछले सभी सीजन लगभग प्लेऑफ तक का सफर तय की थी उससे इतना खराब प्रदर्शन की उम्मीद लोगों को नहीं थे। चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल की टीमों में से एक है जो दिग्गज खिलाड़ियों पर निर्भर है, लेकिन इस साल बाकी टीम में ऐसा देखा गया कि दिग्गज खिलाड़ियों के बजाय युवा खिलाड़ियों ने आईपीएल में जलवा बिखेरा।

आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाड़ी हुए फेल

9S6A0218

चेन्नई में आईपीएल की सभी टीमों में से सबसे ज्यादा उम्रदराज खिलाड़ी शामिल हैं, टीम के ज्यादातर खिलाड़ियों की उम्र 30 वर्ष से अधिक है और इस सीजन लगभग सभी खिलाड़ियों से खराब प्रदर्शन देखने को मिला।  कोई टीम के लिए रन बनाने में नाकामयाब रहा तो कोई टीम के लिए धीमी बल्लेबाजी किया। तो अब सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल के आगामी सीजन जब मैदान पर उतरेगी तो वह युवा प्रतिभा पर भरोसा जताएंगे या वह अपने दिग्गज अनुभवी खिलाड़ियों के साथ भरोसा जताए रखेंगे।

चेन्नई के युवा खिलाड़ियों का प्रदर्शन दिग्गज क्रिकेटर्स से बेहतर

SAM 0847

फिलहाल चेन्नई सुपर किंग्स में शामिल युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर नजर डालें तो टीम में जिन युवा खिलाड़ियों को मौका मिला उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया चाहे वह दीपक चाहर हो या टीम के स्टार ऑलराउंडर सैम करन, शार्दुल ठाकुर से भी चेन्नई के लिए लगातार शानदार गेंदबाजी देखने को मिली। वही बल्लेबाजी की बात करें तो जब चेन्नई सुपर किंग्स ने अपने प्लेइंग इलेवन में नारायण जगदीशन को मौका दिया तो उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया।

अगर केदार जाधव और युवा क्रिकेटर नारायण जगदीशन के बल्लेबाजी प्रदर्शन की बात करें तो युवा क्रिकेटर ने केदार से कहीं अच्छी बल्लेबाजी की थी, लेकिन इसके बावजूद चेन्नई ने केदार जाधव पर भरोसा जताया रखा। चेन्नई के दिग्गज खिलाड़ियों के प्रदर्शन को देखते हुए बड़ा सवाल यह है की क्या चेन्नई अगले सीजन भी इन्ही खिलाड़ियों पर भरोसा जताएगी या युवा खिलाड़ी टीम का हिस्सा बनेंगे।

क्या चेन्नई अगले साल युवा खिलाड़ियों पर जताएगी भरोसा

SAM 0986

चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल के आगामी सीजन युवा खिलाड़ियों पर भरोसा जताएगी या नहीं, यह इस चीजों पर निर्भर करता है की, आईपीएल के आगामी सीजन के लिए आईपीएल की बड़ी नीलामी नहीं होनी है, शायद इस वजह से चेन्नई सुपर किंग्स को आगामी सीजन पूरी टीम बदलने का मौका न मिले, और वह कुछ खिलाड़ियों को अपने फ्रेंचाइजी का हिस्सा बनाने का मौका मिले

कौन रहेगा अगले साल कप्तान

AI 6850

अब सबसे बड़ा सवाल यह भी होगा की चेन्नई सुपर किंग्स की कमान क्या धोनी ही संभालेंगे, अगर टीम की कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी के हाथों में ही रहती है तो शायद धोनी अपने उन्हें खिलाड़ियों के साथ मैदान पर उतरे जिनके साथ फिलहाल वह खेल रहे हैं। लेकिन अगर हो सकता है कि महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल का आगामी सीजन खेलने से मना कर दे तो टीम मैनेजमेंट युवा खिलाड़ियों पर भरोसा जताने की ओर सोच सकती है।

मुझे लगता है कि चेन्नई सुपर किंग्स अपने इस साल के प्रदर्शन से काफी कुछ सीखे की और आने वाले सालों में वह युवा खिलाड़ियों पर भरोसा जताना सही समझेगी