virat kohli ravi shastri wc jpg

भारतीय क्रिकेट टीम आईपीएल खत्म होने के बाद ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर जाएगी, जिसको लेकर अभी टीम इंडिया तैयारिया भी शुरू कर चुकी है। आगामी दौरे से पहले टीम के कई खिलाड़ी शानदार फॉर्म में चल रहे है। अक्सर ऐसा होता है की किसी टीम के लिए खिलाड़ियों का खराब प्रदर्शन करने की चुनौती होती है। लेकिन टीम इंडिया के खिलाड़ियों का शानदार फॉर्म में चलना बड़ी चुनौती हो सकती है की किसे मौका दे।

विराट कोहली के लिए बढ़ गई चिंता

96015 virat kohli reuters

आगामी दौरे के लिए टीम इंडिया ने जिन खिलाड़ियों को मौका दिया है उसमें ज्यादातर खिलाड़ी फिलहाल अच्छी फॉर्म में चल रहे है। जिसकी वजह से विराट के लिए चिंता का विषय बन सकता है की कौन से खिलाड़ी को मौका दिया जाए। अगर अच्छी फॉर्म में चल रहे खिलाड़ियों की बात करें तो टीम के ओपनर बल्लेबाजों को मौका देना विराट कोहली के लिए चिंता की बात हो सकती है।

आगामी ऑस्‍ट्रेलिया दौरे के लिए टीम इंडिया के पास वनडे फॉर्मेट और टी-20 फॉर्मेट के लिए तीन ओपनर शिखर धवन, केएल राहुल, मयंक अग्रवाल का उपलब्ध रहना तय है। वहीं रोहित भी अगर फिट होते है तो वह भी दौरे पर जाएंगे। ऐसे में कोहली के लिए सबसे बड़ी चिंता की बात होगी की वह कौन से ओपनर होंगे जो टीम के लिए मैच में खेलेंगे। फिलहाल सभी खिलाड़ी अच्छी फॉर्म में चल रहे है।

ओपनर बल्लेबाजों ने आईपीएल में मचाया धमाल

Virat Kohli and KL Rahul

आईपीएल के इस सीजन के दौरान केएल राहुल, मयंक अग्रवाल और शिखर धवन से काफी बेहतर प्रदर्शन देखने को मिला। वहीं अगर रोहित टीम से जुड़ेंगे तो उन्हे टीम के प्लेइंग इलेवन में मौका मिलना लगभग तय है। टीम के कप्तान के लिए सबसे बड़ी चुनौती यह होगी की वह किसे टीम में मौका देंगे।

अगर ओपनर बल्लेबाजों में सबसे अधिक रन बनाने वाले क्रिकेटर की बात करें तो केएल राहुल ने सबसे अधिक रन बनाए। केएल राहुल ने इस सीजन 14 मैच में 670 रन बनाए, वही मयंक अग्रवाल और शिखर धवन से भी अच्छा प्रदर्शन देखने को मिला, जिसके बदौलत दोनों खिलाड़ियों ने टी-20 टीम में जगह बनाई।

मयंक और धवन ने भी मचाया धमाल

fa0a95880eeee584bcd095d5a3abd8c2

अगर मयंक अग्रवाल और धवन के इस सीजन के प्रदर्शन पर नजर डाले तो दोनों खिलाड़ियों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया। धवन अब तक 16 मैचों में 603 रन बना चुके है, वही मयंक अग्रवाल ने इस साल 11 मैच में 424 रन बनाए। इन खिलाड़ियों के प्रदर्शन को देखते हुए कोहली के लिए चिंता बढ़ सकती है की किसे मौका दे।