323303
BRISTOL, ENGLAND - JUNE 16: Smriti Mandhana of India on Day One of the LV= Insurance Test Match between England Women and India Women at Bristol County Ground on June 16, 2021 in Bristol, England. (Photo by Ashley Allen/Getty Images)

महिला क्रिकेट में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुई एकमात्र डे-नाईट टेस्ट ड्रा के रूप में समाप्त हुई. भारत के तरफ से पहली पारी में स्टार ओपनर बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने शानदार शतक लगाया. इस शतक के साथ उन्होंने कई सारे बड़े रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए. तो वही दूसरी पारी में उन्होंने 31 रन बनाये. जिसके लिए उन्हें प्लेयर ऑफ़ द मैच भी चुना गया. मैच के बाद मंधाना ने उस पल के बारे में बताया, जब पहली पारी में उन्हें एक जीवनदान मिला था.

मंधाना को मिला था जीवनदान

thequint 2021 06 f96b99cf 6e20 4942 b26d fce5ca82638d E4F4RpdVIAIhuH4 1

भारत के तरफ से पहली पारी में स्मृति मंधाना ने 132 रन की शानदार पारी खेली, जिसकी बदौलत भारतीय टीम ने पहली पारी में 8 विकेट के नुक्सान पर 377 रनों का बड़ा सा स्कोर खड़ा किया. हालाँकि उनकी शतकीय पारी के दौरान उनका भाग्य ने भी उनका ख़ासा साथ दिया. टेस्ट मैच के दूसरे दिन वो 80 रनों पर बल्लेबाजी कर रही थी. तभी उन्होंने एलिस पैरी की एक गेंद पर कट शॉट लगाया और गेंद सीधे पॉइंट क्षेत्र में कड़ी बेथ मूनी के हाथो में चली गयी. लेकिन पैरी का पाँव क्रीज से बहार था और ये गेंद नो-बॉल हो गयी और उन्हें एक जीवनदान मिल गया और फिर उन्होंने शानदार शतक जड़ दिया.

यह मेरी टॉप 3 पारियों में से एक थी :स्मृति मंधाना

Untitled design 10 1

मैच ड्रा होने के बाद बाएं हाथ की धाकड़ बल्लेबाज ने उस नो-बॉल के बारे में बात करते हुए कहा, उस नो- बॉल के बाद मेरे दिमाग में एक ही बात थी, मुझे एक मौका मिला है मुझे इसका फायदा उठाना है. उन्होंने इस पारी को अपनी टॉप 3 पारियों में से एक बताया है. इसके बारे में उन्होंने कहा,यह निश्चित रूप से मेरी टॉप 3 पारियों में से एक है. पहली बार डे-नाइट टेस्ट खेल रही हूं, मैं खुश हूं कि मैंने टीम को अच्छी शुरुआत दी. यह मेरी अब तक की सबसे नर्वस रात रही.

शतक लगा बनाए कई सारे रिकॉर्ड

jpg 4

मंधाना ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट में शतक लगाने वाली दूसरी भारतीय महिला क्रिकेटर हैं. उनसे पहले 1984 में संध्या अग्रवाल ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 134 रन की पारी खेली थी. यह टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया की धरती पर किसी भारतीय महिला की पहली सेंचुरी थी. 1991 में रजनी वेणुगोपाल का 58 रन ऑस्ट्रेलिया में भारत के लिए पिछला सर्वोच्च टेस्ट स्कोर था. मंधाना के 127 रन किसी भी महिला बल्लेबाज का ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट का बेस्ट स्कोर है. उनसे पहले इंग्लैंड की मॉली हाइड ने ऑस्ट्रेलिया में 124 रन की नाबाद पारी खेली थी.