dinesh kartik

सूर्यकुमार यादव के अर्धशतक और मैन ऑफ द मैच हार्दिक पंड्या के ऑलराउंड खेल से मुंबई इंडियंस ने रविवार को कोलकाता नाइट राइडर्स को 13 रन से हराकर आईपीएल-11 के प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदें बरकरार रखी हैं. केकेआर एक समय मजबूत स्थिति में दिख रही थी, लेकिन स्लॉग ओवर्स में एकदम से मैच का पासा पलटा और आखिर में कप्तान दिनेश कार्तिक (26 गेंदों पर नाबाद 36 रन) की पारी के बावजूद केकेआर 6 विकेट पर 168 रन तक ही पहुंच पाई.
GAZI 5824
हार का सामना करने के बाद केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक काफी हताश व निराश दिखे. उनके चेहरे पर हार का दर्द साफ़ तौर पर छलक रहा था. कार्तिक ने मैच के बाद कहा कि “मुझे खुद पर यकीन था, इसीलिए मैंने बुमराह के ओवर में चांस बनाने की कोशिश की. मैं अंत में सिंगल भागने पर फोकस नहीं कर रहा था. हमने बुमराह के ओवर से 14 रन बनाए भी लेकिन कभी कभी क्रिकेट में जैसा आप सोचते हैं जरुरी नहीं वैसा ही हो. हाँ, लेकिन रसेल अंत तक रुके होते तो मैच हमारे पक्ष में होता.”

उन्होंने आगे कहा कि “अगर नितिश राणा कुछ समय और टिक जाते तो हमारे लिए जीत निकालनी जरूर आसान हो जाती. जिस समय नितिश का विकेट हमने खोया, हम अच्छी स्थिति में थे. हमें हर ओवर में करीब आठ रन बनाने थे. लेकिन इसके बाद आंद्रे रसैल का बुमराह की गेंद पर क्रुणाल पांड्या ने कैच पकड़ लिया. सुनील नारायण भी कुछ खास नहीं कर पाए. हमने काफी कोशिश की लेकिन मुंबई की तरफ से हार्दिक पांड्या ने अच्छी गेंदबाजी कर हमें टारगेट से दूर कर दिया.

ऐसे हारी केकेआर
DckISm9U0AoIpen
केकेआर को अंतिम 8 ओवरों में 71 रन की दरकार थी, लेकिन अगले 4 ओवरों में केवल 17 रन बने और इस बीच उथप्पा और राणा पविलियन भी लौटे, जिससे आखिरी 4 ओवर के लिए रन रेट 13 रन प्रति ओवर से ऊपर चला गया. आंद्रे रसल (9) नहीं चल पाए. कार्तिक ने प्रयास जारी रखे, लेकिन रन और गेंदों के बीच अंतर लगातार बढ़ता जा रहा है. आखिरी ओवर में 23 रन चाहिए थे, लेकिन केकेआर 9 रन ही बना पाया.

Anurag Singh

लिखने, पढ़ने, सिखने का कीड़ा. Journalist, Writer, Blogger,

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *