Vishnu Solanki Daughter After Father Passed Away
Vishnu Solanki Daughter After Father Passed Away

बड़ौदा टीम के क्रिकेटर विष्णु सोलंकी (Vishnu Solanki) पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है और उनके लिए ये मुश्किलें खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है. इस समय वो अपने जीवन के सबसे भयावह दौर का सामना कर रहे हैं. टीम के लिए इस समय रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) खेल रहे विष्णु सोलंकी (Vishnu Solanki) को दो बड़े झटके लगे हैं. जो उनके लिए किसी बड़ी त्रासदी से कम नहीं है.

इस प्लेयर पर टूटा दुखों का पहाड़

Vishnu Solanki Father Passed Away

दरअसल कुछ दिन पहले की ही बात है जब उन्होंने अपनी नवजात बेटी को खो दिया था. इस दुख से वो उबर भी नहीं पाए थे को अब उनके पिता ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया है. रविवार, 27 फरवरी को उनके पिता का निधन हो गया है. हालिया जानकारी की माने तो रविवार की सुबह उन्हें अपने पिता के निधन की खबर मिली. लेकिन, उन्होंने अपनी टीम के प्रति अपनी निष्ठा को पूरा करने की प्राथमिकता दी.

अपने घर से हजारों किलोमीटर दूर कटक में विष्णु सोलंकी बड़ौदा और चंडीगढ़ के बीच मैच के आखिरी दिन मैदान पर थे. उन्होंने अपने परिवार से कहा था कि वह मैच पूरा करने के बाद घर लौटेंगे. बड़ौदा और चंडीगढ़ का ये मैच ड्रॉ पर खत्म हुआ है. पिता के निधन की खबर के बाद भी उन्होंने पहले टीम को प्रायोरिटी देना जरूरी समझा.

बेटी के निधन के बाद जड़ा था शतक, बड़ौदा की पॉइंट्स में हुई थी बढ़ोतरी

Vishnu Solanki Father

जिंदगी के सबसे कठिन दौर से गुजरने के बावजूद खिलाड़ी ने अपनी बहादुरी से सभी का दिल जीत लिया है. उन्होंने क्रिकेट और अपनी टीम के प्रति अपनी जिम्मेदारी को निभाया. कुछ ही दिन पहले उनकी नन्ही सी बेटी का बीमारी के चलते निधन हो गया था. उसका अंतिम संस्कार कर वह टीम के साथ लौटे और फिर शुक्रवार 25 फरवरी को कटक में चंडीगढ़ के खिलाफ उन्होंने एक लाजवाब शतकीय पारी खेली.

विष्णु सोलंकी ने इस दौरान 104 रन बनाए थे. उनकी इस पारी की मदद से बड़ौदा टीम ने 517 रनों का बड़ा स्कोर खड़ा किया था. वहीं चंडीगढ़ पर 349 रनों की विशाल बढ़त हासिल की थी. यही बढ़त टीम के लिए फायदेमंद साबित हुई. चंडीगढ़ ने अपनी दूसरी पारी में 7 विकेट खोकर 473 रनों बनाए थे और पारी को घोषित कर दिया था. लेकिन, आज ये मुकाबला ड्रॉ पर खत्म हुआ. विष्णु के शतक की मदद से बड़ौदा को पहली पारी में बढ़त तो मिली ही थी इसके साथ टीम ने 3 पॉइंट्स भी हासिल किए थे.