Virender Sehwag MS Dhoni

आईपीएल के मौजूदा सीजन चेन्नई सुपर किंग्स से लगातार खराब प्रदर्शन का नजारा देखने को मिला, टीम के सीनियर खिलाड़ी हो या युवा खिलाड़ी सभी ने टीम की प्लेइंग इलेवन का प्रतिनिधित्व करते हुए खराब प्रदर्शन किया। टीम के सीनियर खिलाड़ी तो शुरू से ही खराब प्रदर्शन कर रहे थे उम्मीद थी कि युवा खिलाड़ियों को मौका

दिया जाएगा तो वह बेहतरीन प्रदर्शन करेंगे लेकिन जब मुंबई इंडियंस के खिलाफ मुकाबले में युवा खिलाड़ियों को टीम की प्लेइंग इलेवन का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला तो वह वैसा प्रदर्शन नहीं कर सके जैसी उनसे उम्मीद जताई गई थी, इसी बात को लेकर वीरेंद्र सहवाग ने अपनी प्रतिक्रिया दी।

धोनी को लेकर बोले वीरेंद्र सहवाग

d5dcd14d d06d 4e4f 8442 bd55c0d943fa

पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच खेले गए मैच के बारे में बोलते हुए कहा की,

“युवा क्रिकेटरों ने धोनी को निराश किया, जिससे महेंद्र सिंह धोनी को ज्यादा तकलीफ हुई होगी”

बात दरअसल कुछ ऐसी है कि महेंद्र सिंह धोनी ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ मैच के दौरान जब युवा खिलाड़ियों को टीम की प्लेइंग इलेवन का प्रतिनिधित्व करने का मौका दिया और वह शानदार प्रदर्शन करने में असफल रहे।

हालांकि राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ खेले गए मुकाबले के दौरान जब चेन्नई सुपर किंग्स को हार मिली थी तो जब उनसे पूछा गया की वह युवा खिलाड़ियों को मौका क्यों नहीं डे रहें है तो उन्होंने कहा कि उन्हें युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन में स्पार्क नजर नहीं आ रहा है, जिसके बाद धोनी की आलोचना हुई थी।  जिसके बाद कहा गया था कि धोनी युवा खिलाड़ियों को मौका नहीं दे रहे हैं इसलिए चेन्नई सुपर किंग्स हार रही है।

जब धोनी ने दिया मौका तो युवा खिलाड़ी हो गए फेल

csk team

राजस्थान के खिलाफ मैच के बाद जब चेन्नई सुपरकिंग्स मुंबई इंडियंस के खिलाफ मैदान पर उतरी तो धोनी ने युवा खिलाड़ियों को टीम के प्लेइंग इलेवन में शामिल किया तो वह बिना खाता खोले वापस पवेलियन लौट गए। मैच के दौरान धोनी ने केदार जाधव की जगह नारायण जगदीशन और स्टार ओपनर बल्लेबाज शेन वॉटसन की जगह ऋतुराज गायकवाड को टीम की प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बनाया था। यह दोनों खिलाड़ी बिना खाता खोले वापस पवेलियन लौट गए।

चेन्नई सुपर किंग्स ने इस सीजन अब तक 11 मैच खेले जिसमें टीम को सिर्फ तीन मैचों में जीत मिली बाकी आठ मैचों में टीम को हार का सामना करना पड़ा। आईपीएल के इस सीजन चेन्नई सुपर किंग्स के प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद है अब लगभग खत्म हो चुकी है।