virender sehwag Rashid

कोरोना महामारी के कहर के चलते इस साल बीसीसीआई को आईपीएल 2021 के 14वें सीजन को बीच में ही स्थगित करना पड़ा. अभी तक इस सीजन में सिर्फ 29 मुकाबले खेले गए हैं. जबकि 31 मुकाबले अभी भी बचे हुए हैं. लेकिन इसका आयोजन कब-कहां और कैसे होगा अभी तक इसके बारे में ऑफिशियल तौर पर कोई जानकारी सामने नहीं आई है. लेकिन, इसी बीच वीरेंद्र सहवाग (virender sehwag) ने राशिद खान (Rashid Khan) को लेकर बड़ा बयान दिया है.

राशिद को पूर्व क्रिकेट ने बताया इस युग का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज

virender sehwag

दरअसल टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक ओपनर खिलाड़ी सहवाग अक्सर अपने बयानों के चलते चर्चा में बने रहते हैं. खासकर युवा खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाते हुए आए दिन वो अलग-अलग पोस्ट करते रहते हैं. हाल ही में उन्होंने सनराइजर्स हैदराबाद के स्पिनर गेंदबाज राशिद की जमकर तारीफ की है.

वीरेंद्र सहवाग (virender sehwag) ने इस बारे में क्रिकेबज से बात करते हुए अपने हालिया बयान में कहा है कि,  ‘राशिद खान टी20 क्रिकेट में इस युग के सर्वश्रेष्ठ स्पिनर हैं’. इस साल आईपीएल 2021 में भी उनका प्रदर्शन बाकियों के मुकाबले बेहद शानदार रहा है.  इस सीजन में खेले गए टीम के सातों मैच में वो हैदराबाद का हिस्सा थे.

राशिद के अलावा शाहरूख की भी तारीफ में सहवाग ने पढ़े कसीदे

WhatsApp Image 2021 05 16 at 7.33.15 AM

आईपीएल 2021 के खेले गए 7 मुकाबले में राशिद खान ने 6.14 की इकोनामी रेट से गेंदबाजी करते हुए रन लुटाए थे. जबकि उनका गेंदबाजी औसत 17. 20 का रहा है. 7 मैच में उन्होंने कुल 10 विकेट चटकाए थे. स्पिनर गेंदबाज के अलावा वीरेंद्र सहवाग (virender sehwag) ने पंजाब किंग्स ऑलराउंडर खिलाड़ी शाहरूख खान की भी तारीफ में कसीदे पढ़े हैं.

इस बारे में क्रिकबज से बात करते हुए सहवाग ने कहा कि,

‘वह मुझे युवा पोलार्ड की याद दिलाते हैं. जब वह आईपीएल में आए थे. हर कोई उनकी ओर भाग रहा था क्योंकि वह ऐसे खिलाड़ी हैं जो अकेले अपने दम पर मैच को जिता सकते हैं और बड़े-बड़े शॉट्स खेल सकते हैं. शाहरुख के पास भी उसी तरह की क्वालिटी है.’

ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी करते हुए शाहरूख लगा सकते हैं शतक- पूर्व भारतीय बल्लेबाज

WhatsApp Image 2021 05 16 at 7.33.44 AM

बातचीत के दौरान वीरेंद्र सहवाग(virender sehwag) ने शाहरूख को लेकर यह भी कहा कि,

‘अगर उन्हें ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी के लिए भेजा जाता है तो वह शतक भी लगा सकते हैं. वो उन बल्लेबाजों की लिस्ट में आते हैं जिसके यह मायने नहीं रखता कि, पिछली गेंद पर क्या हुआ था. कई बल्लेबाज इस तरह से सोचते हैं कि, मैंने पिछली गेंद हिट नहीं कर पाया और गेंद घूम गई. लेकिन, जो पिछली गेंद के बारे में नहीं सोचते उनकी सफलता के दर कहीं ज्यादा है.’