Virender Sehwag on virat kohli-T20 WC 2021
Virender Sehwag on virat kohli-T20 WC 2021

विराट कोहली (Virat Kohli) ने बीते सोमवार नामीबिया के खिलाफ बतौर कप्तान अपना आखिरी टी20 टूर्नामेंट खेला. अब वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने उन सवालों का जवाब दिया है जो हाल ही में उनसे मौजूदा कप्तान को लेकर पूछा गया था. उन्होंने उस बारे में क्या कुछ कहा है इसके बारे में बताएंगे. लेकिन, उससे पहले बता दें कि T20 World Cup 2021 के आगाज से पहले ही वर्तमान मेजबान ने ये अनाउंसमेंट कर दी थी कि ये उनका बतौर कप्तान आखिरी टूर्नामेंट होगा. इस मेगा इवेंट से भारत का सफर खत्म हो चुका है लेकिन विराट की कप्तानी छोड़ने को लेकर  चर्चा जारी है. ऐसी खबरें भी सामने आ रही हैं कि टीम इंडिया के वनडे की कप्तानी जा सकती है. इसे लेकर वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने क्या प्रतिक्रिया दी है जानते हैं इस रिपोर्ट के जरिए…

क्या कोहली को छोड़ देनी चाहिए पूरी तरह से कप्तानी?

Virender Sehwag on virat kohli

वनडे और टेस्ट की कप्तानी विराट छोड़ रहे हैं इस पर बीसीसीआई की ओर से कोई स्टेटमेंट सामने नहीं आई है. लेकिन, इन खबरों पर जब पूर्व भारतीय क्रिकेटर  (Virender Sehwag) से फैंस ने जवाब मांगा तो उन्होंने अपना पक्ष रखा. उन्होंने बताया कि विराट कोहली को टेस्ट और वनडे फॉर्मेट में मेजबानी जारी रखनी चाहिए या नहीं. पूर्व सलामी बल्लेबाज का मानना ​​है कि 33 वर्षीय कप्तान के तौर पर उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया है और उन्हें वनडे और टेस्ट में कप्तानी की कमान अपने पास रखनी चाहिए.

कप्तान के तौर पर विराट का रहा है शानदार प्रदर्शन

Virat Kohli

हाल ही में अपने ऑफिशियल फेसबुक पेज पर एक प्रशंसक के सवाल का जवाब दिया. जिसने ये सवाल किया था कि क्या कोहली को कप्तान के तौर पर पूरी तरह से इस्तीफा दे देना चाहिए? इस पर वीरेंद्र सहवाग ने कहा,

‘यह विराट का फैसला है. लेकिन, मुझे नहीं लगता कि उन्हें बाकी दो प्रारूपों की कप्तानी छोड़नी चाहिए. यदि वो सिर्फ एक खिलाड़ी के रूप में खेलना चाहते हैं तो यह उनका निर्णय होगा. मुझे लगता है कि उनकी कप्तानी में भारत अच्छा खेल रहा है और एक कप्तान के रूप में उनका रिकॉर्ड शानदार है.’

ODI और टेस्ट में कप्तानी छोड़ना कोहली का निजी फैसला

Virender Sehwag-virat kohli

इस सिलसिले में अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने कहा,

‘वह एक अच्छे खिलाड़ी हैं. एक आक्रामक कप्तान हैं और सामने से नेतृत्व करते हैं. मैं दोहराता हूं कि वनडे और टेस्ट में कप्तानी छोड़ना या न छोड़ना उनका पर्सनल मैटर है.’

इससे के साथ ही वीरेंद्र सहवाग ने इस बात पर भी जोर दिया कि आईसीसी टूर्नामेंटों में टीम के खराब प्रदर्शन पर आत्मंथन करने की जरूरत है. धोनी की कप्तानी में 2013 चैंपियंस ट्रॉफी की जीत के बाद से भारत को अभी तक आईसीसी खिताब नहीं मिला है.

विश्व टूर्नामेंट जीतने पर ही लोग आपको याद रखते हैं- पूर्व सलामी बल्लेबाज

Virender Sehwag

अंत में वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने अपने बयान में ये बात भी कही,

‘मुझे पता है कि हमें बुरे समय में टीम का सपोर्ट करना चाहिए. लेकिन, एक लंबा वक्त बीत चुका है हमने एक भी आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीती है. भारत को निश्चित तौर पर  से इस पर आत्मनिरीक्षण करना चाहिए. द्विपक्षीय सीरीज जीतना एक अलग बात है. लेकिन, लोग आपको तभी याद करते हैं जब आप लगातार विश्व टूर्नामेंट में जीत हासिल करते हैं.’

सभी Cricket match prediction और fantasy Tips प्राप्त करें CLICK HERE

Cricket Match Prediction | टी20 वर्ल्ड कप Match Prediction | Today Match Fantasy Prediction | Fantasy Cricket Tips | Cricket News and Updates | Cricket Live Score | Ravi Shastri को इस आईपीएल टीम से मिला कोच का ऑफर! | Ashish Nehra का बड़ा बयान