Virender Sehwag Son Aryaman Veer

भारतीय टीम के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने टीम इंडिया के लिए कई मैच जीताऊ पारियां खेली है. सहवाग को आज भी उनकी धुआंधार बल्लेबाजी के लिए याद किया जाता हैं. वहीं अब उनका लाडला बेटा आर्यवीर (Aryavir) उनके नक्शे कदम पर चल पड़ा है. आर्यवीर को भी आक्रामंक बल्लेबाजी करना पसंद है. वहीं वीरू के बेटे को U-16 के स्क्वाड में इस टीम में जगह मिल गई है. बता दें कि सहवाग के दो बेटे हैं बड़े बेटे का नाम आर्यवीर है, जबकि छोटे बेटे का नाम वेदान्त है.

Virender Sehwag के बेटे U-16 में मिली जगह

Virendra sehwag

वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) के बेटे आर्यवीर (Aryavir) को अपने पापा की विस्फोटक बल्लेबाजी करना पसंद है.अंडर-16 विजय मर्चेन्ट ट्रॉफी के लिए आर्यवीर को अंडर-16 दिल्ली स्क्वॉड में जगह भी मिली है. हालांकि आर्यवीर को बिहार के खिलाफ मैच में प्लेइंग XI में जगह नहीं मिल पाई. उम्मीद लगाई जा रही है कि आर्यवीर को अलगे मुकाबले में खिलाया जाता है तो उन्हें वीरू तरह मैदान पर चौके छक्के लगाते हुए देखा जा सकता है. माता पिता भी उनकी बल्लेबाजी देखने के लिए काफी बेताब होंगे.

कुछ ऐसा रहा है वीरू का क्रिकेटेटिंग करियर

Virender Sehwag

वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने साल 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ वनडे क्रिकेट की दुनिया में कदम रखा था. हांलाकि सहवाग अपने पहले मुकाबले में 1 रन बनाते हुए तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का शिकार हो गए थे.

उसके बाद वीरू ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा, वीरेंद्र सहवाग ने 1999 से लेकर 2013 के बीच भारत के लिए कुल 104 टेस्ट, 251 वनडे इंटरनेशनल मैच और 19 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं.

सहवाग के खाते में 8586 टेस्ट, 8273 वनडे इंटरनेशनल और 394 टी20 इंटरनेशनल रन दर्ज हैं. उन्होंने ने 20 अक्टूबर 2015 को इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान किया था.  भारत की ओर से टेस्ट क्रिकेट में दो ट्रिपल सेंचुरी जड़ने वाले सहवाग इकलौते बल्लेबाज हैं.

और पढ़े: इस खिलाड़ी के साथ हो रही है Sanju Samson से भी बड़ी नाइंसाफी, लगातार प्रदर्शन के बावजूद रोहित शर्मा ने किया नजरअंदाज

Rubin Ahmad

रूबिन अहमद, क्रिकेट एडिक्टर ऑनलाइन में असिस्टेंट न्यूज एडिटर हैं. दिल्ली विश्वविद्यालय...