photo 2021 06 24 12 44 50

23 जून को साउथेम्पटन में भारतीय क्रिकेट टीम को न्यूजीलैंड के हाथों 8 विकेटों से WTC फाइनल में हार का सामना करना पड़ा। 2 सालों की कड़ी मेहनत और इंतजार के बाद Virat Kohli की टीम खिताबी जीत दर्ज नहीं कर सकी। जाहिर है इस हार ने खिलाड़ियों को भी आहत किया होगा और सोशल मीडिया पर तो टीम की लगातार ट्रोलिंग हो रही है। इस बीच कप्तान विराट कोहली ने टीम को लेकर एक दिल छूने वाली बात कही है।

Virat Kohli ने टीम को बताया परिवार

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान Virat Kohli इस वक्त अपनी टीम के साथ इंग्लैंड में ही हैं। भारत ने WTC फाइनल में हार का सामना किया है और अब वह इंग्लैंड के साथ खेली जाने वाली 5 मैचों की सीरीज का बेसब्री से इंतजार कर रहे होंगे। मगर 2 सालों की कड़ी मेहनत और संघर्ष के बाद फाइनल में पहुंची टीम इंडिया के लिए ये हार किसी सदमे से कम नहीं होगी।

इस बीच कप्तान कोहली ने अपने ट्विटर हैंडिल से टीम के लिए पोस्ट किया है। उन्होंने लिखा- ‘ये सिर्फ एक टीम नहीं है. ये एक परिवार है। हम आगे बढ़ेंगे। साथ में।’

भारत के बल्लेबाजों का रहा निराशाजनक प्रदर्शन

भारतीय टीम इस वक्त दुनिया की सबसे मजबूत टीमों में से एक है। बल्लेबाजी इकाई में तमाम बड़े नाम शामिल हैं, जिसमें Virat Kohli, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत, रोहित शर्मा। मगर बदकिस्मती से WTC फाइनल में किसी का भी बल्ला बड़ा स्कोर नहीं बना सका।

जहां पहली पारी में भारत 217 पर सिमट गया था, तो वहीं रिजर्व डे पर पहुंचे मैच में दूसरी पारी में तो भारतीय बल्लेबाजों ने और भी निराशाजनक प्रदर्शन किया और सिर्फ 170 रनों पर ही ऑलआउट हो गए। इस दौरान टीम का एक भी बल्लेबाज अपनी टीम के लिए क्रीज पर रुक नहीं सका और आखिर में भारत ने न्यूजीलैंड को जीत के लिए 139 रनों का मामूली लक्ष्य दिया। जवाब में कीवी टीम ने आसानी से लक्ष्य को हासिल कर लिया और 8 विकेट से जीत दर्ज करते हुए ट्रॉफी अपने नाम कर ली।

विराट कोहली के हाथ से निकली ट्रॉफी

Virat Kohli

भारतीय कप्तान विराट कोहली ( Virat Kohli) के पास ये खिताबी जीत दर्ज करने का बेहतरीन मौका था, लेकिन भारतीय टीम इसे भुना नहीं सकी और हार गई। इस हार के साथ ही विराट कोहली की हार की हैट्रिक लग गई है। अब तक कोहली अपनी टीम को एक भी आईसीसी ट्रॉफी नहीं जिता सके हैं। हालांकि अब फैंस उम्मीद करेंगे कि साल के अंत में खेले जाने वाले टी20 विश्व कप में भारत खिताबी जीत दर्ज कर 8 सालों से चले आ रहे आईसीसी ट्रॉफी के सूखे को खत्म करेगा।