विराट कोहली

भारत और न्यूजीलैंड के बीच आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबले की तारीख नजदीक आ रही है। इन दिनों क्रिकेट के गलियारे में चर्चा चल रही है कि विराट कोहली और केन विलियमसन में से कौन सा कप्तान साउथैम्पटन में इतिहास रचते हुए पहला टेस्ट चैंपियनशिप खिताब जीतेगा। अब इस चर्चा में पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ब्रेट ली का कहना है कि उन्हें लगता है कि विराट कोहली पर भारी पड़ेगा, जिस तरह वह दिखाते हैं कि उनके लिए टेस्ट क्रिकेट अधिक महत्वपूर्ण है।

टेस्ट क्रिकेट की महत्ता पड़ेगी उनपर भारी

Virat Kohli

कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुवाई में टीम इंडिया, इंग्लैंड पहुंच चुकी है और क्वारेंटीन अवधि पूरी कर रही है। तो वहीं किवी टीम इंग्लैंड के साथ टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला खेल रही है। इस बीच आईसीसी की वेबसाइट से बात करते हुए कहा,

“दोनों ही कप्तान इस ट्रॉफी को आखिर में उठाना चाहते होंगे। अगर बात भारतीय कप्तान विराट कोहली की करें तो वह डायनामिक खिलाड़ी हैं, वह अपनी टीम को काफी प्रभावित करते हैं, वह विश्व स्तरीय बल्लेबाज हैं। लेकिन, मुझे लगता है कि वह जिस तरह से अपनी टीम, अपने देश को दिखाते हैं कि टेस्ट क्रिकेट उनके लिए कितना महत्वपूर्ण है, वह उन पर भारी पड़ेगा और उसकी मदद से उनके प्रदर्शन में निखार आएगा।”

जिता पाएंगे Virat Kohli टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल?

Virat Kohli की कप्तानी में टीम इंडिया बेहतरीन प्रदर्शन कर रही है, मगर अब तक कोहली अपनी टीम को एक भी आईसीसी ट्रॉफी नहीं जिता सके हैं। ऐसे में वह टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल को हाथ से नहीं निकलने देना चाहेंगे। मगर किवी टीम का सामना करते हुए ट्रॉफी जीतना Virat Kohli के लिए आसान नहीं होने वाला है। ब्रेट ली ने आगे कहा,

“हम सभी जानते हैं कि कोहली बड़े मैचों में दमदार खेल दिखाते हैं और जैसे आपने कहा कि, वह अपनी टीम को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का पहला विजेता जरूर बनाना चाहेंगे। वह उनके लिए काफी महत्व रखता है और मुझे लगता है कि यह चर्चा का विषय रहेगा। एक बार जब सब कुछ बोल लिया जाएगा, एक बार जब तैयारियां पूरी हो जाएंगी, जब उनका क्वारंटाइन पूरा हो जाएगा, ठीक उनके मैदान पर उतरने से पहले, मुझे लगता कि वह आखिरी कमेंट होगा। उनको इसका मजा लेते हैं, लेकिन उनको वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप जीतने वाली पहली टीम बनने देते हैं।”

12 को मैदान पर उतरेगी टीम इंडिया

Virat Kohli

भारतीय क्रिकेट टीम (Team India) इंग्लैंड पहुंच चुकी है। मगर पहले भारतीय खिलाड़ियों को नियमित क्वारेंटीन अवधि में रहना होगा और टीम 12 जून को मैदान पर प्रैक्टिस के लिए उतरेगी। ऐसे में विराट सेना के पास फाइनल की तैयारी के लिए चंद प्रैक्टिस सेशन ही होंगे। वहीं किवी टीम के पास खुद को इंग्लिश परिस्थितियों में ढ़ालने का बेहतरीन मौका है, क्योंकि वह 2 टेस्ट मैचों की सीरीज इंग्लैंड के साथ खेलेगी। जिसका पहला मैच लॉर्ड्स में शुरु हो चुका है।