Kooo

हाल ही में भारतीय क्रिकेट टीम ने अपना 58 दिनों का दक्षिण अफ्रीका दौरा समाप्त किया। टेस्ट सीरीज में 2-1 से मिली हार के बाद भारतीय टीम में वनडे और टी-20 सीरीज में शानदार वापसी की। पूरे दौरे में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने शानदार प्रदर्शन किया। पिछले 25 सालों में जो भारत नहीं कर पाया वो कोहली ने एक दौरे में कर दिखाया।

कोहली की ये उपलब्धि क्रिकेट इतिहास के स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज हो गई है। कोहली के दमदार प्रदर्शन के बाद उनको लेकर कई बयान सामने आए। हाल ही में विराट कोहली को लेकर पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ ने बड़ा बयान दिया है। स्टीव वॉ भारतीय कप्तान विराट कोहली की आक्रमकता से निराश है और उन्होंने कप्तान के रूप में और सीखने की सलाह दी है।

भारत ने किया दमदार प्रदर्शन

Indian Team PTI

 

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ का ने कहा, कि  “हाल ही में भारत ने अफ्रीका दौरे में शानदार प्रदर्शन किया। 2-1 से टेस्ट सीरीज गंवाने के बाद भारतीय टीम ने गजब की वापसी की। कोहली की बेहतरीन बल्लेबाजी ने टी-20 और वनडे सीरीज में सकारात्मक भूमिका निभाई। इसी के दम पर भारत ने दोनों (टी-20 और वनडे) सीरीज में बढ़त बनाई ।”

कप्तान के रूप में विकसित हो रहे विराट

kohli ap m3

 

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ का मानना है कि विराट कोहली कप्तान के रूप में अभी विकसित हो रहे हैं। इस दौरान कोहली को अपनी आक्रामकता पर काबू करने की जरूरत है। स्टीव वॉ ने कहा कि,

”एक कप्तान के रूप में अभी उसका विकास हो रहा है। लेकिन कोहली को अभी आक्रामकता और भावनाओं में संतुलन की जरूरत है। उनकी टीम के बाकी खिलाड़ी उतने आक्रामक नहीं है,जितना की वो हैं। लेकिन यही उसके खेलने का अंदाज है।”

रहाणे व पुजारा शांत खिलाड़ी

dc Cover dk92itqgq5jh1uigfrcsr17km4 20170307194111.Medi

लॉरियस वर्ल्ड स्पोर्ट्स अवॉर्ड्स समारोह के दौरान बोलते हुए स्टीव वॉ ने कहा, कि “हमने उन्हें अफ्रीका में खेलते हुए देखा और वो शीर्ष पर थे, लेकिन कप्तान के रूप में उन्हें यह सीखने की जरूरत है कि हर खिलाड़ी उनके जितने आक्रामकता के साथ नहीं खेल सकता है। अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा जैसे खिलाड़ी बेहद शांत और चुपचाप हैं। ऐसे में उन्हें समझना होगा कि कुछ खिलाड़ी शांत हैं।”

हर समय जीत पाना मुश्किल

144711 steve waugh

स्टीव वॉ ने कहा कि कोहली को अपनी  आक्रामकता कभी दिखानी हैं और कभी इसके टोन को कम रखना है। इसलिए उसे सही से काम करने की जरूरत है। स्टीव वॉ ने कहा कि,

”कोहली के प्रति हमारा बहुत सम्मान है। वो बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है। उनके पास एक्स फैक्टर मौजूद हैं। इसलिय पूरी टीम उनका अनुसरण कर रही है। पिछले कुछ वर्षों में उन्हें खेल के सभी प्रकारों में बहुत अच्छा जीत मिली है। विराट अपनी टीम से बड़ी आकांक्षाएं हैं। वह सभी प्रारूपों में नंबर 1 बनना चाहते हैं, जो इन दिनों करना मुश्किल है।”

कोहली के लिए दो बड़ी चुनौतियां

654688 kohli pc centurion 970 twit 1 696x391 1

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ ने कहा कि “भारत के लिए विश्वकप से पहले दो बड़ी चुनौतियां हैं। जिनसे उन्हें पार पाना है। विराट कोहली के लिए इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया को जीतना सबसे बड़ी चुनौती है। भारत अगस्त और सितंबर में इंग्लैंड के दौरे पर होगी। वहीं 2018-19 की गर्मियों में वो ऑस्ट्रेलिया में चार वनडे सीरीज खेलेगी।”

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *