virat Kohli-test

विराट कोहली (Virat Kohli) कप्तानी में इंग्लैंड के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में उतरी टीम इंडिया (Team India) ने 1-0 से बढ़त बना ली है. लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लिश टीम के खिलाफ जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए उन्हें 151 रन से करारी शिकस्त दी. महज दो सेशन के अंदर भारत ने इस मुकाबले को अपने नाम कर लिया. 272 रन के मिले लक्ष्य का पीछा करने उतरी अंग्रेजी टीम 120 रन बनाकर सिमट गई थी.

ऐसा रहा है भारतीय टीम के मौजूदा कप्तानी में टीम का प्रदर्शन

Virat Kohli

लॉर्ड्स के मैदान में पहली पारी में 129 रन बनाने वाले केएल राहुल (KL Rahul) को इस मुकाबले में प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया. तो वहीं तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) ने इस मैच में 8 अहम विकेट चटकाए. पहला टेस्ट बारिश की वजह से ड्रॉ हो गया था. भारत को लॉर्ड्स में बेहतरीन जीत हासिल हुई थी. इससे पहले 9 दिसंबर 2014 को पहली बार टेस्ट कप्तानी में विराट कोहली (Virat Kohli) ने जीत हासिल की थी.

इसके बाद एडिलेड में हुए मुकाबले में भारत को 48 रन से हार का सामना करना पड़ा था. बतौर कप्तान उन्हें पहला टेस्ट मैच जीतने के लिए 5 मुकाबलों का इंतजार करना पड़ा था. पहले 4 टेस्ट मैच में टीम इंडिया को 2 मैच में हार का सामना करना पड़ा था. जबकि 2 मैच ड्रॉ साबित हुए थे. 20 अगस्त 2015 कोलंबो में खेले गए टेस्ट में भारतीय टीम ने मेजबान श्रीलंका को 278 रन से हराया था. यह बतौर कप्तान विराट की पहली टेस्ट जीत थी.

मौजूदा कप्तान ने दुनिया में जीते सबसे ज्यादा टेस्ट मैच

photo 2021 08 18 09 27 23

विराट कोहली (Virat Kohli) के कप्तान बनने के बाद अजिंक्य रहाणे ने 4 टेस्ट और एमएस धोनी ने 2 टेस्ट मैच में मेजबानी की जिम्मेदारी निभाई थी. बतौर कप्तान कोहली अब तक 37 टेस्ट मैच में जीत हासिल कर चुके हैं. उन्होंने अब तक 63 टेस्ट मैच में कप्तानी की है. 15 टेस्ट में उन्हें शिकस्त का सामना करना पड़ा है. 11 टेस्ट मुकाबले ड्रॉ रहे हैं. वहीं रहाणे को 5 में से 4 टेस्ट मैच में जीत हासिल हुई है. जबकि धोनी 2 में से एक भी टेस्ट नहीं जीत सके हैं.

यानी टीम इंडिया ने इस बीच कुल 70 टेस्ट मैच खेले हैं. इनमें से 41 मुकाबले में जीत का सामना करना पड़ा है. यह भारत का दुनिया में सबसे शानदार प्रदर्शन रहा है. टीम इंडिया (Team India) से ज्यादा टेस्ट कोई और टीम नहीं जीत सकी है. इंग्लैंड ने भारतीय टीम से ज्यादा टेस्ट मुकाबले खेले हैं. लेकिन, वो भी कम ही टेस्ट जीत सकी है.

एशिया में जीत जमाया अपना धाक

photo 2021 08 16 10 32 51

बतौर मौजूदा कप्तान SENA देशों यानी साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया में 5 टेस्ट मुकाबले में जीत हासिल कर चुके हैं. यह बतौर एशियाई कप्तान सबसे शानदार प्रदर्शन रहा है. उन्होंने पाकिस्तान के दो पूर्व दिग्गज कप्तान जावेद मियांदाद और वसीम अकरम को भी पीछे कर दिया है. दोनों ही खिलाड़ियों ने 4-4 टेस्ट मैच में जीत दर्ज की थी. टीम इंडिया के सबसे कामयाब कप्तान एमएस धोनी (MD Dhoni) SENA देशों में केवल 3 टेस्ट जीत सके थे.

लेकिन, मौजूदा कप्तान अब कैप्टन कूल से इस मामले में आगे निकल गए हैं. उन्होंने 5 में 2 मैच ऑस्ट्रेलिया, 2 मैच इंग्लैंड और 1 मैच साउथ अफ्रीका में जीता है. फिलहाल अभी तक बतौर कप्तान उन्हें न्यूजीलैंड में जीत हासिल नहीं हुई है.

1 टेस्ट जीतने के बाद इस मामले में कपिल देव को भी पीछे छोड़ देंगे मौजूदा कप्तान

photo 2021 08 16 09 29 17

बतौर कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को इंग्लैंड में अब तक 2 टेस्ट मैच में जीत हासिल हुई है. वो इंग्लैंड में बतौर भारतीय कप्तान सबसे ज्यादा टेस्ट जीतने के मामले में कपिल देव के साथ संयुक्त रूप से बराबरी पर हैं. यदि वो सीरीज के बचे 3 में से एक मैच में भी जीत हासिल कर लेते हैं तो कपिल देव को छोड़कर शीर्ष पर पहुंच जाएंगे. इतना ही नहीं कोहली बतौर एशियाई कप्तान सबसे ज्यादा 3 टेस्ट जीतने वाले कप्तान की भी सूची में शामिल हो जाएंगे.

पाकिस्तान के इमरान खान, जावेद मियांदाद, मिस्बाह उल हक, सलमान बट और वसीम अकरम ने भी बतौर कप्तान इंग्लैंड में 2-2 टेस्ट जीते हैं.