virat kohli

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए लॉर्ड्स टेस्ट मैच में मेहमान टीम ने शानदार खेल दिखाते हुए 151 रनों से एक बड़ी जीत अपने नाम कर ली है। इस मैच में Virat Kohli की कप्तानी देखने लायक थी। वैसे कप्तान विराट कोहली मैदान पर अपना 100 % देने के लिए जाने जाते हैं, फिर चाहें वह बल्लेबाजी की बात हो, फील्डिंग की हो या कप्तानी की हो। इस मैच में भी कप्तान कोहनी ने टीम हडल में अपनी टीम को जीत के लिए कैसे मोटिवेट किया था।

भारत ने 271 की बढ़त के साथ की थी पारी घोषित

Virat Kohli

भारत ने लॉर्ड्स टेस्ट मैच में काफी उतार-चढ़ाव देखे। एक पल था, जब भारत मैच से बाहर नजर आ रहा था, फिर ऐसा लगा की भारत मैच ड्रॉ के लिए खेल रहा है, लेकिन आखिरी में भारत ने सभी को चौकाते हुए मैच जीतकर अपने नाम कर लिया।

इस मैच में जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी की 89 रनों की नाबाद साझेदारी के बाद कप्तान Virat Kohli ने 298 के स्कोर पर पारी घोषित कर दी थी। तब भारत के पास मैच में 271 रनों की बढ़त थी और 60 ओवर का खेल बचा हुआ था।

Virat Kohli ने खिलाड़ियों को दिया था मैसेज

Virat Kohli

एक अच्छा कप्तान वही होता है, जो अपने खिलाड़ियों से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करा सके। भारतीय कप्तान Virat Kohli उन्हीं में से एक हैं, उन्हें अच्छी तरह से पता है, कि अपनी टीम से सर्वश्रेष्ठ कैसे निकलवाना है। भारत को आखिरी 60 ओवरों में जीत के लिए 10 विकेट चटकाने थे। ऐसे में भारत को शुरुआत भी अच्छी मिल गई, क्योंकि ओपनर्स बिना खाता खोले आउट हो गए। इसके बाद बैक टू बैक विकेट गिरते रहे और पूरी इंग्लिश टीम 120 के स्कोर पर 51.5 ओवर बल्लेबाजी कर आउट हो गई।

परिणामस्वरूप भारत ने ये मैच 151 रनों से जीत लिया। अब वह बात मैसेज सामने आया है, जो कप्तान कोहली ने अपनी टीम को टीम हडल के वक्त दिया था। कोहली ने कहा था,‘अगर मैंने किसी को हंसते हुए देखा तो देखना। इन 60 ओवरों में तुम्हें जान लगाकर फील्डिंग करनी है।’ यकीनन भारतीय टीम ने जान लगा दी और लॉर्ड्स में ऐतिहासिक जीत दर्ज की।