rohit kohli
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

Virat Kohli और रोहित शर्मा आज की तारीख में भारतीय टीम के दो सितारे हैं, जिन्होंने टीम इंडिया की चमक को बढ़ाते हैं। ये दोनों ही भारतीय टीम के दो स्तंभ हैं, जो टीम को मजबूती देते हैं। हिटमैन ओपनिंग करते हैं, तो वहीं Virat Kohli भी टॉप ऑर्डर में ही खेलते हैं।

मगर इन दोनों खिलाड़ियों में इतना अंतर है, जिसे कोई भी नोटिस कर सकता है। मगर आखिर में दोनों का उद्देश्य अपनी टीम के लिए मैच विनिंग प्रदर्शन करना ही होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि दोनों खिलाड़ियों में क्या अंतर है? तो आइए इस आर्टिकल में हम आपको इन दोनों खिलाड़ियों के बीच के 3 बड़े अंतर बताते हैं, जो दोनों को एक-दूसरे से बनाते हैं बिलकुल अलग।

            Virat Kohli और रोहित के बीच हैं 3 बड़े अंतर

1- आक्रामक हैं कोहली, तो कैप्टन कूल हैं रोहित

sharma and kohli

Virat Kohli की पहचान हमेशा से ही एक आक्रामक कप्तान के रूप में की जाती है। मैदान पर यदि कोई खिलाड़ी कैच छोड़ दे या खराब फील्डिंग करें तो विराट को उसके ऊपर चिल्लाते और गुस्सा करते बड़ी ही आसानी का साथ देखा जा सकता है। अपने गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन पर भी वह अपना गुस्सा नहीं छिपा पाते।

रोहित इस मामले में एकदम अलग है। उनको मैदान पर बहुत ही रिलैक्स और कूल देखा जा सकता है। स्वंय कई खिलाड़ी भी रोहित की कप्तानी की तारीफ ये बात कह चुके हैं। कोहली अंपायर के फैसलों पर सवाल खड़े कर देते हैं, जबकि रोहित की कप्तानी ऐसा बहुत ही कम देखने को मिलता है।

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse