विराट कोहली

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) मौजूदा वक्त में तीनों फॉर्मेट के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं। उनकी आक्रामकता दुनियाभर में मशहूर है। मैदान पर कोहली हो और कैमरा उनसे दूर रहे क्योंकि उन्हें मैदान पर खुद को अभिव्यक्त करना काफी पसंद है। एक ओर कई बार आलोचना होती है, तो वहीं अब न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के दिग्गज रिचर्ड हेडली ने विराट की आक्रामकता की सराहना की है।

Virat Kohli बिगाड़ सकते हैं सामने वाली टीम की लय

Virat kohli

विराट कोहली (Virat Kohli) ना केवल एक आक्रामक खिलाड़ी हैं, बल्कि वह बेहद आक्रामक कप्तान भी हैं। वह गेंदबाजों से अधिक उनके विकेट को सेलिब्रेट करते हैं। अब टाइम्स ऑफ इंडिया ने दिग्गज रिचर्ड हेडली से पूछा कि कोहली और विलियमसन के रवैये में काफी भिन्नता है लेकिन इसके बावजूद वे दुनिया के शीर्ष खिलाड़ी हैं। इसपर हेडली ने कहा,

 “जब आप किसी खेल को हाईऐस्ट लेवल पर खेलते हैं तो प्रतिस्पर्धा होती ही है। यह मैच जीतने और विपक्षी टीम पर बढ़त हासिल करने का एक तरीका है। हालांकि यह बात हमेशा ध्यान रखने वाली होती है कि क्या कोई खिलाड़ी या टीम खेल भावना की सीमा को लांघ रहा है। मुझे ऐसे खिलाड़ी अच्छे लगते हैं जो खुलकर अपनी भावनाओं का इजहार करते हैं। यह सामने वाली टीम की लय बिगाड़ सकता है।”

विराट टीम को जिताने की पूरी कोशिश करते हैं

विराट कोहली (Virat Kohli) को मैदान पर अपना 100 नहीं बल्कि 120 प्रतिशत देने के लिए जाना जाता है। जब टीम का कप्तान ऐसा रवैया रखता है, तो खिलाड़ी भी अपना सर्वश्रेष्ठ देते हैं। हेडली ने आगे विराट को एक जुनूनी और प्रतिस्पर्धी क्रिकेटर करार दिया। उन्होंने कहा,

“वह काफी जोश के साथ खेलते हैं। उनकी पूरी कोशिश होती है उनकी टीम जीते। वह इसके लिए अपनी ओर से पूरा प्रयास करते हैं। वह काफी गर्व के साथ खेलते हैं और विश्व स्तरीय खिलाड़ी हैं। उन्हें खेलते देखना मजेदार अनुभव है। कोहली से जो दबाव और उम्मीदें जुड़ी हैं वे बहुत ज्यादा हैं। करोड़ों लोग उन्हें अपना आदर्श मानते हैं। इससे उन पर दबाव काफी बढ़ जाता है।”

विराट सेना खेलेगी टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल

Virat Kohli

भारतीय क्रिकेट टीम और न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के बीच आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला 18 से 22 जून को साउथैम्पटन के मैदान पर खेला जाएगा। इस मैच के लिए पूरा क्रिकेट जगत उत्साहित है। ये मुकाबला है विश्व क्रिकेट की टॉप-2 टीमों के बीच और देखना दिलचस्प होगा कि कौन सी टीम चैंपियनशिप का फाइनल जीतकर अपने नाम करती है।