Virat Kohli, Chetan Sharma
Chetan Sharma

विराट कोहली और सौरव गांगुली के बयानों पर चल रहे विवाद पर अब Virat Kohli के बचपन के कोच राजकुमार ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। असल में साउथ अफ्रीका रवाना होने से पहले विराट ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कई अहम मुद्दों पर बात की और साथ ही सौरव गांगुली के एक बयान पर असहमति जताई। जिसके बाद से ही विवाद खड़ा हो गया है। क्रिकेट गलियारे में इस मुद्दे पर तमाम क्रिकेटर्स अपनी प्रतिक्रिया देते नजर आ रहे हैं।

हमें नहीं पैदा करना चाहिए विवाद

Virat Kohli

सौरव गांगुली के बयान पर विराट कोहली द्वारा असहमति जताए जाने के बाद से चारों ओर इस पर चर्चा चल रही है। इस बीच Virat Kohli के बचपन के कोच राजकुमार शर्मा का कहना है कि दोनों ही तरफ से इस तरह कड़े शब्दों का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए था। कोहली के बचपन के कोच ने ‘खेलनीति’ पॉडकास्ट पर बातचीत करते हुए कहा,

”मैं इस मुद्दे पर ज्यादा कुछ नहीं बोलना चाहता, क्योंकि यह सीधे तौर पर विराट से जुड़ा है। लेकिन मुझे लगता है कि दोनों तरफ से इस तरह के कड़े शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया जाता तो और अच्छा होता। टीम अच्छा कर रही है, मुझे नहीं लगता कि हमें अनावश्यक विवाद पैदा करने की जरूरत है।”

Virat Kohli नहीं हैं लालची

कोहली और दादा के बीच चल रहे विवाद के बीच भारतीय टीम, साउथ अफ्रीका पहुंच चुकी है। वहां 26 दिसंबर से टेस्ट सीरीज भी शुरु हो जाएगी। ऐसे में राजकुमार शर्मा का कहना है कि Virat Kohli के दिमाग में कुछ भी हो, लेकिन जब वह मैदान पर उतरेंगे, तो इन सभी चीजों को पीछे छोड़कर उतरेंगे। उन्होंने आगे कहा,

”इस तरह के विवाद से कोहली को प्रभावित होने की संभावना नहीं है। यह उनके दिमाग में हो सकता है, लेकिन एक बार जब वह मैदान पर कदम रखेंगे, तो मुझे नहीं लगता कि इससे उन पर कोई असर पड़ेगा। विराट को किसी चीज का लालच नहीं है, उनमें बहुत आत्मविश्वास है और मैं जानता हूं कि वह अपना 100 प्रतिशत देंगे। जब इस तरह का टकराव या विवाद होता है तो जाहिर तौर पर किसी भी खिलाड़ी के लिए यह थोड़ा परेशान करने वाला होता है, लेकिन मुझे उम्मीद है कि बोर्ड इस स्थिति से कुशलता से निपटेगा और इसे आगे नहीं खींचा जाएगा।”

क्या है पूरा मामला?

virat-kohli and-sourav-ganguly

Virat Kohli – Sourav Ganguly के बीच विवाद काफी गर्माया हुआ है। असल में गांगुली ने कुछ वक्त पहले एक बयान दिया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि विराट को T20I कप्तानी छोड़ने से रोका गया था, लेकिन उन्होंने स्टेप डाउन करने का फैसला किया। लेकिन साउथ अफ्रीका दौरे पर रवाना होने से पहले कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में दादा के इस बयान को सीधे तौर पर झूठा साबित कर दिया। उन्होंने कहा कि मुझसे किसी ने कप्तानी को लेकर कुछ नहीं कहा था।

इसके बाद ही विवाद ने तूल पकड़ लिया और गांगुली से जब इस बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि इसे बीसीसीआई अपने हिसाब से सुलझाएगी। ऐसे में अब माना जा रहा है कि साउथ अफ्रीका दौरे के बाद कोहली पर कार्रवाई की जा सकती है।