virat kohli
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

वर्तमान क्रिकेट में जब भी लगातार रन बनाकर टीम को मैच जितवाने की बात आती है तो भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) का नाम सबसे पहले लिया जाता है। यह ऐसा बल्लेबाज है जो मैच को टीम के पक्ष में मोड़ देता है। क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में अपने बल्ले का जौहर दिखाने वाले कोहली ने टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तो झंडे ही गाड़ दिए हैं।

 वैसे बता दें कि अभी कुछ ही दिनों के बाद टी20 विश्वकप भी शुरू होने वाला है, ऐसे में टीम को उनसे उम्मीदें कुछ ज्यादा ही होंगी और साथ ही विपक्षी टीमों को उनके लिए विशेष योजना भी बनानी पड़ेगी। दरअसल बात यह है कि टी20 विश्वकप में Virat Kohli की बल्लेबाजी आमदिनों से भी घातक हो जाती है। आज हम उनके नॉर्मल टी20 मैचों व टी20 विश्वकप के प्रदर्शन की बात करेंगे।

कुछ इस तरह का है Virat Kohli का प्रदर्शन

1. टी20 मैचों में

virat kohli vs australia

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने अन्तराष्ट्रीय टी20 में कुल 90 मैच खेले हैं और इन मैचों की 84 पारियों में बल्ले का जौहर दिखाया है। बता दें कि इन पारियों में कोहली ने 24 बार नाबाद रहते हुए 3159 रन बनाए हैं। हालांकि इस दौरान वो एक भी शतक नहीं लगा सके हैं जबकि दुनिया में किसी भी अन्य बल्लेबाज से कहीं ज्यादा 28 अर्धशतक वो जड़ चुके हैं।

बता दें कि Virat Kohli इकलौते बल्लेबाज हैं जिन्होंने तीनों प्रारूपों में 50 से ज्यादा की औसत से रन बनाए हैं। इस प्रारूप में विराट के नाम 52.65 का औसत व 139.04 का स्ट्राइक रेट है, साथ ही उनका उच्चतम स्कोर नाबाद 94 रन है।

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse