Ravi Shastri on Kohli T20 Captaincy

हाल ही में कुछ दिन पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने T20 World cup 2021 के बाद टी20 क्रिकेट की कप्तानी छोड़ने का एलान कर पुरे विश्व जगत के क्रिकेट प्रेमी को चौंका कर रख दिया था. विराट के फैन्स इस बात पर विश्वास ही नहीं कर पा रहे थे. विराट (Virat Kohli) ने बढ़ते वर्कलोड को मेनेज करने को इस फैसले के पीछे का कारण बताया था.

हालाँकि सूत्रों की माने तो आईसीसी टूर्नामेंट (ICC Tournament) में लगातार मिल रही असफलता के कारण उन्हें कप्तानी छोड़ने पर मजबुर किया गया था. हालाँकि अब भारत टीम के पूर्व कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने इस मामले पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए एक बड़ा बयान दिया है.

सचिन तेंदुलकर ने अपने करियर को लंबा करने के लिए ऐसा ही किया था: रवि शास्त्री

Virat Kohli

भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने टी20 क्रिकेट में भारतीय टीम की कप्तानी छोड़ने के साथ-साथ आईपीएल (IPL) की अपनी टीम रॉयल चेलेंजर्स बैंगलोर (RCB) की कप्तानी के पद से भी अपना कदम पीछे खींच लिए थे. कोहली के कप्तान छोड़ने के फैसले पर किसी ने सवाल उठाया तो किसी ने सही भी ठहराया. इस बीच भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व मुख्य कोच रहे रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने उनके फैसले को सही ठहराया.

शास्त्री ने एक इंटरव्यू में महान सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) और सचिन तेंडुलकर (Sachin Tendulkar) का उदाहरण देते हुए कहा कि 100 प्रतिशत यह सबसे अच्छा हुआ है. मुझे याद है कि सनी (गावस्कर) ने अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कप्तानी छोड़ दी थी. सचिन तेंदुलकर ने अपने करियर को लंबा करने के लिए ऐसा ही किया था.

दुसरे सबसे सफल कप्तान हैं कोहली

 Virat Kohli's captaincy call

कोहली (Virat Kohli) टी20 में भारत के दूसरे सबसे सफल कप्तान हैं. उनसे पहले महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) का नाम आता है. कोहली ने 50 मैचों में टीम इंडिया की कप्तानी की है जिसमें से 30 में उन्हें जीत मिली. 16 मैचों में उनके हिस्से हार आई. इस दौरान कोहली (Virat Kohli) का जीत का प्रतिशत 64.58 रहा है. टी20 विश्व कप में टीम इंडिया ने अपना आखिरी मैच नामीबिया के खिलाफ खेला था जिसमें टीम को जीत मिली थी.