Team India-virat kohli

भारतीय क्रिकेट टीम इस वक्त इंग्लैंड में अपनी छुट्टियां इंज्वॉय कर रही हैं। टीम को हाल ही में विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था। अब Virat Kohli की कप्तानी वाली टीम इंडिया को 4 अगस्त से इंग्लैंड के साथ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है। इंग्लैंड की मुश्किल परिस्थितियों में सीरीज जीतने का बेहतरीन मौका है, क्योंकि टीम को तैयारी के लिए काफी वक्त मिलने वाला है।

Virat Kohli के पास है इतिहास रचने का मौका

virat kohli

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने बैक टू बैक ऑस्ट्रेलिया में दो बार टेस्ट सीरीज जीती है। अब इंग्लैंड के खिलाफ विराट के पास इतिहास रचने का मौका है। जी हां, यदि भारतीय टीम, इंग्लैंड के साथ खेली जाने वाली 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज करने में कामयाब होती है, तो विराट एशिया के पहले कप्तान बन जाएंगे, जिन्होंने इंग्लैंड व ऑस्ट्रेलिया दोनों सेना देशों में टेस्ट सीरीज जीती है।

विराट ने ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में 2018-19 बॉर्डर-गावस्कर सीरीज में हराकर बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम किया था। वह एशिया के पहले कप्तान बने थे, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में टेस्ट सीरीज में हराया। अब उनके पास इंग्लैंड को हराने का बेहतरीन मौका है। बताते चलें, भारत ने पिछली बार 2007 में राहुल द्रविड़ की कप्तानी में इंग्लैंड को टेस्ट सीरीज में 1-0 से हराया था।

तैयारी के लिए भारत के पास है वक्त

Virat Kohli की कप्तानी वाली भारतीय क्रिकेट टीम के पास एक बेहतरीन मौका है, जिसे भुनाकर वह इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज कर सकती है। दरअसल, WTC फाइनल के बाद भारतीय टीम, इंग्लैंड में ही मौजूद है। फिलहाल तो वह 20 दिनों की छुट्टियों पर है, मगर 14 जुलाई को फिर बायो बबल में चले जाएंगे।

ऐसे में भारतीय टीम के पास इंग्लिश परिस्थितियों के लिए खुद को तैयार करने का अच्छा मौका होगा। यदि वह ऐसा करने में कामयाब होते हैं, तो विश्व स्तरीय खिलाड़ियों से सजी भारतीय टीम को 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में जीतने से कोई नहीं रोक सकता।

यहां देखें पूरा शेड्यूल

WTC

4 से 8 अगस्त: पहला टेस्ट, नॉटिंघम

12 से 16 अगस्त: दूसरा टेस्ट, लंदन

25 से 29 अगस्त: तीसरा टेस्ट, लीड्स

2 से 6 सितंबर: चौथा टेस्ट, लंदन

10 से 14 सितंबर: पांचवां टेस्ट, मैनचेस्टर