भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन दिवसीय प्रैक्टिस मैच का दूसरा मुकाबला सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जा रहा है। मैच के दौरान टीम इंडिया पर नजर डालें तो टीम में कई खिलाड़ी शामिल नहीं थे। वहीं कई खिलाड़ी ऐसे भी प्रैक्टिस मैच का हिस्सा थे जिन्हें देखकर ऐसा लग रहा है कि टेस्ट सीरीज से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली उलझन में है।

प्रैक्टिस मैच से कई मुख्य खिलाड़ी बाहर

विराट कोहली

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच जारी प्रैक्टिस मुकाबले के दौरान चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली उमेश यादव और रविचंद्रन अश्विन टीम की प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं थे। यह देखकर इतनी हैरानी नहीं हुई लेकिन जब टीम के प्लेइंग इलेवन में ऋद्धिमान साहा और ऋषभ पंत दोनों को ही देखा गया तो यह देखकर काफी हैरानी हुई।

क्योंकि दोनों ही खिलाड़ी विकेटकीपर हैं, और टीम का हैरान करने वाला फैसला यह भी था कि टेस्ट क्रिकेट के बेस्ट विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा को उन्होंने एक बल्लेबाज के तौर पर मैदान पर उतरा। जबकि ऋषभ पंत मैच में विकेटकीपिंग कर रहे थे।

टीम मैनेजमेंट के ऐसे फैसले को देखते हुए लगता है कि विराट कोहली इन दोनों खिलाड़ियों को लेकर उलझन में हैं कि कौन से खिलाड़ी को टीम की प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बनाया जाए।

मैच के दौरान दोनों का प्रदर्शन

GettyImages 1001063288

मैच में अगर दोनों खिलाड़ियों के प्रदर्शन की बात करें तो बल्लेबाजी में दोनों ही फेल रहे। ऋषभ पंत मैच में 11 गेंद पर 5 रन बनाकर वापस पवेलियन लौट गए। वहीं साहा 22 गेंद पर खाता भी नहीं खोल सके। लेकिन जब मैदान पर फील्डिंग करने दोनों खिलाड़ी उतरे तो ऋषभ पंत ने विकेट के पीछे काफी अच्छा प्रदर्शन किया।

वहीं फील्ड पर ऋद्धिमान साहा ने भी अपने प्रदर्शन की बदौलत फैंस को चौका दिया। साहा ने ऑस्ट्रेलिया के युवा बल्लेबाज निक मेडिसन का जबरदस्त कैच पकड़ा। जिसे देखकर साहा की सोशल मीडिया पर खूब तारीफ हुई कई लोगों ने तो यह भी कह डाला कि साहा सिर्फ बेस्ट विकेटकीपर ही नहीं बल्कि जबरदस्त फिल्डर भी हैं।

प्रदर्शन के अनुसार दी जा सकती है प्राथमिकता

saha and pant lg

पहले प्रैक्टिस मैच के दौरान ऋषभ पंत को मैदान पर नहीं उतारा गया था। 6 नवंबर से 8 नवंबर तक खेले गए पहले प्रैक्टिस मुकाबले के दौरान साहा एक विकेटकीपर के तौर पर मैदान पर उतरे थे। पहली पारी में उनसे अच्छा प्रदर्शन देखने को नहीं मिला, लेकिन दूसरी पारी में उन्होंने शानदार बल्लेबाजी करते हुए अर्धशतक ठोक दिया।

शायद इसी को देखते हुए टीम मैनेजमेंट इन दोनों खिलाड़ियों को मैदान पर उतारी होगी और उनके प्रदर्शन के मापदंड के अनुसार इन्हें आगामी टेस्ट सीरीज में टीम के प्लेइंग इलेवन में शामिल करने का निर्णय लेगी।