विराट कोहली

भारत ने चेन्नई में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 317 रनों से हराकर शानदार जीत हासिल की। इस जीत के साथ अब अहमदाबाद के लिए रवाना होने से पहले दोनों ही टीम सीरीज में 1-1 की बराबरी पर है। लेकिन भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली पर बैन का खतरा मंडरा रहा है। इसका कारण है दूसरे टेस्ट मैच में उनका अंपायर नितिन मेनन से भिड़ना।

विराट कोहली ने की थी अंपायर से लंबी बहस

एक तरफ भारतीय खेमा दूसरे टेस्ट में मिली विशाल जीत के लिए खुशियां मना रहे हैं, तो दूसरी ओर विराट कोहली पर बैन का खतरा बना हुआ है। दरअसल, चेन्नई में खेले गए दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन अंपायर नितिन मेनन द्वारा जो रूट को नॉटआउट करार देने से विराट खुश नहीं थे।

इसके बाद उन्होंने रिव्यू भी लिया, लेकिन फिर भी अंपायर कॉल बरकरार रही। इसके बाद कप्तान विराट कोहली काफी देर तक अंपायर मेनन से काफी देर तक गुस्से में बातचीत करते दिखे। अंपायर के फैसले पर नाराजगी जताना ही विराट कोहली को मुश्किल में डाल सकता है।

क्या है आईसीसी का नियम?

आईसीसी के कोड ऑफ कंडक्ट आर्टिकल 2.8 के तहत अंपायर के फैसले पर नाराजगी जताने वाले खिलाड़ी पर लेवल 1 या लेवल 2 के चार्ज लगते हैं जिसके बाद खिलाड़ी के खाते में 1 से 4 डिमेरिट अंक जुड़ सकते हैं। 24 महीने के अंदर अगर किसी खिलाड़ी के खाते में अगर 4 डिमेरिट अंक जुड़ते हैं तो उसपर एक टेस्ट या दो वनडे। या फिर दो टी20 इंटरनेशनल मैचों का बैन लग सकता है।

हालांकि अभी ये नहीं पता है कि आईसीसी ने इस बर्ताव के लिए विराट को डिमेरिट प्वॉइंट्स दिए हैं या नहीं। लेकिन जानकारी के लिए बता दें, पहले से ही विराट के पास 2 डिमेरिट प्वॉइंट हैं।

24 फरवरी से शुरु होगा तीसरा मैच

आईसीसी

भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही चार मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मुकाबला अहमदाबाद के सरदार वल्लभ भाई पटेल स्टेडियम में खेला जाएगा। ये पिंक बॉल टेस्ट होने वाला है, इसलिए दोनों ही टीमों के लिए मुश्किल चुनौती होंगी। अभी दोनों टीमों के पास 1-1 अंक हैं। इसलिए 24 फरवरी को 2.30 बजे से शुरु होने वाला तीसरा टेस्ट मैच काफी रोमांचक होने वाला है और इसपर सभी की नजरें बनी होंगी।