महज हफ्ते भर बाद भारत में क्रिकेट का महाकुंभ शुरू होने जा रहा है. दरअसल, आगामी सात अप्रैल से इंडियन प्रीमियर लीग का 11 वां संस्करण खेला जाना है. पहला मुकाबला चेन्नई सुपर किंग और मुंबई इंडियंस के बीच वानखड़े स्टेडियम में खेला जाना है. इस पूरे टूर्नामेंट में भाग लेने वाली आठों टीम बेहद संतुलित नज़र आ रही हैं ऐसे में इस सीजन दिलचस्प मुकाबलें देखने की उम्मीद की जा सकती है. बैन के बाद चेन्नई सुपर किंग दो सालों बाद वापसी कर रही है. जिसकी कमान एक बार फिर महेंद्र सिंह धोनी ही संभाल रहे हैं.

आपको बता दें, पिछले दस सीजन्स में से दो सीजन चेन्नई ने खिताब पर कब्ज़ा जमाया है. इस सीजन भी धोनी की टीम ने कमर कस ली है. इस टीम के पास कप्तान के रूप में ऐसा खिलाड़ी है जो अन्य खिलाडियों की काबिलियत को परख उनसे काम लेता है. वैसे तो यह बात कई बार देखने को मिली है लेकिन इस बार टीम के एक खिलाड़ी ने ही यह बात अपने मुंह से कहा है.

दरअसल, टीवी प्रेसेंटर और कमेंटेटर सुहैल चांडोक को दिए एक इंटरव्यू के दौरान मुरली विजय ने यह बात कहा. मुरली विजय ने कहा कि वे आपको अपने तरीके से खेलने की छूट देते हैं और मुझे लगता है कि यह एक लीडर से उम्मीद करना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है.

मुरली विजय ने कहा कि

”हमारे लिए यह बहुत अच्छा है कि हम उनसे बातचीत करके कुछ सीखें और खेल को खुद तैयार करें. वे हमें अपने तरीके से खेलने का पूरा मौका देते हैं. इसके साथ ही अपनी घरेलू टीम के लिए खेलने का मौका मिलने को लेकर मुरली विजय काफी खुश हैं. उन्होंने कहा कि मुझे बहुत अच्छा लग रहा है कि मैं फिर से चेन्नई सुपरकिंग्स का हिस्सा बन गया हूं. मेरे पास शब्द नहीं है कि चेन्नई के लिए फिर से खेलना मुझे कितना अच्छा लग रहा है.”

बता दें, साल 2009 से 2013 तक मुरली विजय चेन्नई सुपरकिंग्स के साथ जुड़े रहे थे. चेन्नई सुपरकिंग्स आईपीएल के दो टाइटल जीत चुकी है. महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में चेन्नई सुपरकिंग्स एक बार फिर से यह खिताब अपने नाम करने की चाह रखती है. पिछले सीजन्स में चेन्नई सुपरकिंग्स का कामयाब सफर रहा था. इस साल टीम फिर से कामयाबी दोहराने की कोशिश करेगी.

Anurag Singh

लिखने, पढ़ने, सिखने का कीड़ा. Journalist, Writer, Blogger,

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *