vasoo paranjape-black stripe

भारत-इंग्लैंड (IND vs ENG) के बीच केनिंग्टन ओवल में टेस्ट सीरीज का चौथा मुकाबला शुरू हो चुका है. इस मैच में टीम इंडिया वासु परांजपे (Vasoo Paranjape) को सम्मान देने के लिए काली पट्टी बांधकर उतरी है. 5 मैचों की टेस्ट सीरीज का चौथा मुकाबला जारी है और भारत को सलामी बल्लेबाजी रोहित शर्मा के तौर पर एक बड़ा झटका लग चुका है. इस मैच में मेजबान टीम के कप्तान जो रूट ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है.

पूर्व भारतीय क्रिकेटर के सम्मान में भारतीय खिलाड़ियों ने पहनी काली पट्टी

Vasoo Paranjape

पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम इस मैच में काली पट्टी बांधकर खेल रही है. काफी सारे फैंस ऐसे हैं जो इस बात से अनजान हैं कि, टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने यह काली पट्टी भारतीय क्रिकेट के मशहूर कोच वासुदेव परांजपे (Vasoo Paranjape) के सम्मान में पहनी है. जी हां इसी हफ्ते बीते सोमवार (30 अगस्त) को पूर्व क्रिकेटर ने दुनिया को अलविदा कह दिया था. उनके निधन की खबर आते ही खेल जगत में शोक की लहर दौड़ गई है.

सुनील गावस्कर, दिलीप वेंगसरकर, सचिन तेंदुलकर जैसे दिग्गज क्रिकेटरों को निखारने में दिवंगत खिलाड़ी का बहुत बड़ा हाथ रहा था. उन्होंने 82 साल की उम्र में मुंबई के माटुंगा में अपने आवास पर अंतिम सांस ली थी. कोचिंग से पहले वो क्रिकेट की दुनिया में भी खुद को आजमा चुके थे. उन्होंने मुंबई के लिए 28 प्रथम श्रेणी मैच खेले थे. इस दौरान उनके बल्ले से 2 शतक और इतने ही अर्धशतक निकले थे.

सचिन, गावस्कर जैसे दिग्गज खिलाड़ियों को खेल में निखारने में की थी मदद

photo 2021 09 02 16 50 05

28 प्रथम श्रेणी मैच में वासु परांजपे (Vasoo Paranjape) ने कुल 785 रन बनाए थे. हालांकि उन्हें खेल जगत में वो सफलता नहीं हासिल हुई, जितनी उन्हें कोचिंग की दुनिया में हुई. उन्होंने सचिन, गावस्कर और वेंगसरकर जैसे दिग्गजों को शुरुआती समय में क्रिकेट में तराशा और एक बेहतर खिलाड़ी बनाने में उनकी खासा मदद की. 80 के दशक में वो बीसीसीआई के डायरेक्टर ऑफ कोचिंग भी रहे थे.

photo 2021 09 02 16 49 54

फिलहाल बड़े-बड़े दिग्गज खिलाड़ियों को निखारने वाले पूर्व क्रिकेटर वासु परांजपे अब दुनिया में नहीं हैं. उनके निधन की खबर वाकई क्रिकेट जगत के लिए बहुत बड़ा झटका है. यही वजह है कि, आज ओवल टेस्ट में सभी भारतीय खिलाड़ी उनके सम्मान में काली पट्टी बांधकर उतरी है.