CAU

उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन (Uttarakhand cricket Association) इन दिनों सुर्खियों में बना हुआ है, क्योंकि यहां उतराखंड के क्रिकेट खिलाड़ियों से जुड़ा एक मामला सामने आया है. जिसमें जबरन वसूली और खिलाड़ियों को जान से मारने की धमकी के आरोप लगे हैं. आखिरकार क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड यानी (CAU) में चल क्या रहा है? वहीं इस पूरे मामले पर भारत के पूर्व अंडर 19 क्रिकेटर के पिता ने बेटे को जान से मारने की धमकी मिलने के बाद FIR दर्ज करवा दी है.

Uttarakhand cricket Association की बढ़ी मुश्किलें

Uttarakhand cricket
Uttarakhand cricket

उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन (Uttarakhand cricket Association) के खिलाड़ी 1 करोड़ 74 लाख के बोझ के तले दबे हैं. एसोसिएशन पर सेलेक्शन के नाम पर होने वाली धांधली के आरोप लगे हैं और खिलाड़ियों को जान से मारने की धमकी दी जा रही है. जिसके बाद भारत के पूर्व अंडर 19 क्रिकेटर के पिता ने FIR में दर्ज करवा दी है. वहीं इस पूरे मामले पर देहरादून के SSP ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा,

‘पिछले तीन दिनों में हमने माहिम वर्मा, मनीष झा और संजय गुसाईं को अलग-अलग बुलाया है. हमने उनके बयान नोट किए हैं. जरूरत पड़ी तो हम फिर से उन्हें बुलाकर पूछताछ करेंगे.’

पूर्व क्रिकेटर के पिता ने FIR कराई दर्ज

Uttarakhand cricket 2

यह पूरा मामला खत्म होने की बजाय तूल पकड़ता ही जा रहा है. बता दें कि शिकायतकर्ता वीरेंद्र सेठी, जो पूर्व अंडर-19 खिलाड़ी आर्य सेठी के पिता हैं, उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन पर आरोप है कि उनके बेटे को पिछले साल विजय हजारे टूर्नामेंट के दौरान उत्तराखंड क्रिकेट टीम के कोच मनीष झा, टीम मैनेजर नवनीत मिश्रा और वीडियो एनालिस्ट पीयूष रघुवंशी ने जान से मारने की धमकी दी थी.

जिसके चलते उत्तराखंड क्रिकेट (Uttarakhand cricket Association ) के अधिकारियों के खिलाफ FIR देहरादून के वसंत विहार पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई है. ये FIR धारा 120B, धारा 323, धारा 384, धारा 504 और 506 के तहत दर्ज कराई गई है.