chand
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

भारत एक ऐसा देश है जहां हर साल सैंकड़ों की संख्या में नए-नए क्रिकेटर निकलते हैं. वो भी सभी प्रतिभा से भरपूर. भारतीय टीम दिन-प्रतिदिन जिस तरह से मजबूत होकर अन्य सभी टीमों को चुनौती देती हुई जीत दर्ज कर रही है. ऐसे में देश के सभी युवा क्रिकेटर भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करने का सपना संजोए हुए आगे बढ़ते हैं. उन्हें घरेलू से लेकर अन्य सभी स्पर्धाओं में अच्छा प्रदर्शन करना होता है.

वैसे इतने सालों में कई क्रिकेटर्स निकले जिन्होंने ना सिर्फ घरेलू Cricket बल्कि अंडर-19 में भी बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है. बल्कि भारतीय टीम के लिए भी अच्छा प्रदर्शन किया है. लेकिन, आज हम ऐसे खिलाड़ियों के बारे में बात करेंगे जिन्होंने अंडर-19 में देश का प्रतिनिधित्व  किया, बावजूद इसके उन्हें राष्ट्रीय टीम में खेलने का मौका नहीं मिला.

ये हैं अंडर-19 Cricket के प्रतिभाशाली क्रिकेटर

1. तन्मय श्रीवास्तव (Tanmay Srivastava)

(Tanmay cricket

24 अक्टूबर 2020 को Cricket से संन्यास लेने वाले 31 वर्षीय तन्मय श्रीवास्तव 2008 में अंडर-19 विश्व कप जीतने वाले टीम का हिस्सा थे. उन्होंने टीम के लिए 6 मैचों में 262 रन बनाए थे. काबिलेतारीफ प्रदर्शन करने के बाद भी उन्हें राष्ट्रीय टीम में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं दिया गया.

2008 का विश्व कप खत्म होने के बाद यह आशंका जताई जा रही थी कि उन्हें मौका दिया जाएगा, लेकिन उसी टीम के विराट कोहली को मौका दे दिया गया. यही नहीं उस विश्व कप के फाइनल मैच में उन्होंने 43 रनों की पारी खेली थी. किंग्स इलेवन पंजाब ने उन्हें  आईपीएल  (IPL) में खेलने का मौका भी दिया था. लेकिन, वो ज्यादा कामयाब नहीं हो सके.

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse