Umran Malik

साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली गई सीरीज में बेंच गर्म करते नजर आए उमरान मलिक (Umran Malik) को आयरलैंड के खिलाफ सीरीज के जरिए टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू करने का मौका मिला। उन्हें अपने डेब्यू मैच में एक ही ओवर गेंदबाजी करने का मौका मिला था, लेकिन टीम के कप्तान हार्दिक पांड्या ने दूसरे मैच में उनपर भरोसा जताया और उन्हें पूरे चार ओवर दिए। वहीं, उमरान सीरीज के आखिरी मैच के आखिरी ओवर में 17 रन डिफ़ेंड कर हीरो बने।

Umran Malik पर हार्दिक पांड्या ने जताया भरोसा

Umran Malik

टीम इंडिया ने आयरलैंड के खिलाफ खेले गए दूसरे मैच में चार रनों से शिकस्त दी, इसी के साथ इंडिया ने सीरीज अपने नाम कर ली। इस मुकाबले में टीम इंडिया के बल्लेबाजों का प्रदर्शन तो काफी बेहतरीन रहा, लेकिन उमरान मलिक का भी टीम इंडिया को जीत दिलवाने में काफी अहम योगदान रहा। इस मुकाबले में अक्षर पटेल के अलावा सारे गेंदबाज महंगे साबित हुए।

उमरान मलिक (Umran Malik) का भी शुरुआती तीन ओवरों में कुछ खास परफ़ॉर्मेंस नहीं रहा और उन्होंने खूब रन खर्च किए। मगर उमरान ने मैच के आयरलैंड की पारी के आखिरी ओवर में पूरी कहानी ही बदल डाली। दरअसल, आयरलैंड को आखिरी ओवर में जीत के लिए 17 रनों की दरकार थी और क्रीज पर मौजूद थे  मार्क एडेर और जॉर्ज डॉकरेल। जिन्हें देख ये लग रहा था कि टीम इंडिया ये मैच गंवा देगी। ऐसे में टीम के कप्तान हार्दिक पांड्या ने उमरान पर भरोसा जताया और उन्हें आखिरी ओवर का जिम्मा सौंपा।

Umran Malik आखिरी मैच के आखिरी ओवर में 17 रन डिफ़ेंड कर बने हीरो

Umran Malik

आयरलैंड की टीम को जीत के लिए 17 रनों की जरूरत थी। ऐसे में उमरान मलिक (Umran Malik) ने 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी की। क्रीज पर मौजूद मार्क एडेर और जॉर्ज डॉकरेल आक्रमक बल्लेबाजी कर रहे थे, जिस वजह से उमरान का 17 रन डिफ़ेंड कर पाना मुश्किल लग रहा था। उन्होंने ओवर की शुरुआती तीन गेंदों में नौ रन खर्च कर दिए थे। इस दौरान मलिक ने एक नो-बॉल भी डाली।

अगली तीन गेंद पर 8 रन चाहिए थे। मैच अब रोमांचक मोड़ ले चुका था। उमरान (Umran Malik) ने ओवर की चौथी और पाँचवीं गेंद करवाई, जिसपर एडिअर और मार्क ने सिंगल लिया। अब आयरलैंड को आखिरी गेंद पर 6 रनों की जरूरत थी। इस ओवर में जम्मू एक्स्प्रेस ने एडेर को 142 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से शॉर्ट लेंथ गेंद दी इस गेंद पर वह एक ही रन बटोर पाए और इस तरह इंडिया ने चार रनों से मैच अपने नाम किया।