Umran Malik Latest Statement IPL 2022

सनराजर्स हैदराबाज के तेज गेंदबाज उमरान मलिक (Umran Malik) ने अपनी तेज रफ्तार से विरोधी टीम के बल्लेबाजों पर कहर बरपाया है. उन्होंने आईपीएल में शानदार बॉलिंग कर सबका ध्यान अपनी ओर खींचा है. IPL 2022 का 28वां मुकाबला पंजाब और हैदराबाद के खिलाफ खेला जा रहा है. पंजाब किंग्स की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सनराजर्स हैदराबाज के सामने जीत के लिए 152 रनों का स्कोर रखा. पंजाब की टीम को कम स्कोर पर समेटने पर SRH के तेज गेंदबाज उमरान मलिक ने अहम भूमिका निभाई.

Umran Malik ने 20वें ओवर में कसा शिकंजा

Rashid Latif on Umran Malik

पंजाब किंग्स के खिलाफ सनराइजर्स हैदराबाद के तेज गेंदबाज उमरान मलिक ने शानदार गेंदबाजी की. उन्होंने 20वें ओवर में पंजाब किंग्स पर पूरी तरह से शिकंजा कसा. जबकि आईपीएल में देखा जाता है कि गेंदबाज 20वां ओवर करने से कतराते हैं. पर, उमरान मलिक (Umran Malik) ने पूरी दिलेरी के साथ अतिंम ओवर में इतिहास रच दिया.  उन्होंने अपने कोटे के 4 ओवरों में 28 रन देकर 4 विकेट अपने नाम किया. दिलचस्प बात यह रही कि वह मैच का 20वां ओवर मेडन कराने में कामयाब रहे और आखिरी ओवर में 3 विकेट भी अपने नाम किए.

आईपीएस के इतिहास में उमरान मलिक (Umran Malik) ने अपना नाम दर्ज करा लिया. बता दें कि, 20वें ओवर में मेडेन फेंकने का कारनामा इससे पहले इरफान पठान और जयदेव उनाकट कर चुके हैं, लेकिन इन दोनों ने ही मैच की दूसरी पारी का आखिरी ओवर मेडेन फेंका था. लेकिन उमरान मलिक पहली पारी में मेडेन ओवर फेंकने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं. इस ओवर में उन्होंने कुल 4 विकेट लिए. 3 विकेट उनके निजी खाते में गए जबकि एक रन आउट के रूप में टीम को मिला. उमरान मलिक ने अंतिम ओवर में 4 विकेट लेकर पंजाब की कमर तोड़ दी.

‘मैंने अपनी लाइन और लेंथ को बेहतर कर लिया’

Umran Malik

तेज गेंदबाज उमरान मलिक (Umran Malik) आईपीएल में खेलते हुए अपनी बॉलिंग में लगातार सुधार कर रहे हैं. उनकी रफ्तार ही उनका हथियार है. जिसे वो बल्लेबाजों के खिलाफ इस्तेमाल करते हैं. पिछले मैच में अपनी धाकड़ यॉर्कर से श्रेयस अय्यर को चारों खाने चित कर दिया था. यह नजारा देखने के बाद फास्ट बॉलिंग कोच डेल स्टेन भी खुशी के मारे उछल पड़े थे. मैच की पहली खत्म होने के बाद उमरान मलिक ने बताया कि वह लगातार इतनी शानदार गेंदबाजी कैसे कर रहे हैं.

‘इस मैच में जो कुछ हुआ उसे सोचने के लिए थोड़ा समय़ चाहिए था, जम्मू में आमतौर से 47 या 48 डिग्री तक हो जाता है, इसलिए गर्मी से कोई फर्क नहीं पड़ता. इस गर्मी में खेलना वास्तव में अच्छा लगता है. मुझे लगता है कि पिछले कुछ दिनों में मैंने अपनी लाइन और लेंथ को बेहतर कर लिया है. मैच के दौरान मेरी सोच थी कि बॉलिंग करते समय लेंथ को फुल और स्ट्रेट रखा जाए.’