टीम इंडिया के तेज़ गेंदबाज उमेश यादव बल्लेबाजों पर कहर बन कर टूटने के लिए एक नई तकनीक पर काम कर रहे हैं. इसके लिए वे इन दिनों जमकर पसीना बहा रहे हैं. गौरतलब है कि उमेश ने आईपीएल 11 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की तरफ से खेलते हुए शानदार गेंदबाजी की. हालांकि अभी भी वे अपने प्रदर्शन से संतुष्ट नहीं हैं. हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में उमेश ने बताया कि, वह अब ‘सिंगल स्टंप ट्रेनिंग’ ले रहे हैं. यानी कि वह एक स्टंप गाड़कर उसी को निशाना बनाकर गेंद फेंक रहे. उमेश की मानें तो पूर्व भारतीय गेंदबाज आशीष नेहरा ने उन्हें ऐसा करने को कहा है.
बता दें आईपीएल में आशीष नेहरा रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कोच थे. और उमेश इस टीम के मुख्य गेंदबाज थे. ऐसे में नेहरा ने उमेश को अच्छी गेंदबाजी के कई महत्वूपर्ण टिप्स दिए. उमेश बताते हैं, ‘आईपीएल खत्म होने के बाद आशीष पाजी ने उनसे कहा कि वह सिंगल स्टंप बॉलिंग की प्रैक्टिस करें ताकि उनकी बॉलिंग में एकरूपता रहे. ऐसे में मैनें ऑफ स्टंप को अपना निशाना बनाया है और उसी की प्रैक्टिस कर रहा.’

आपको बता दें कि आशीष नेहरा सिंगल विकेट बॉलिंग के महारथी हैं. जब वह मैदान पर बॉलिंग करते थे तो उनका एक लक्ष्य होता था सिर्फ एक विकेट के आसपास गेंदबाजी करना. ऐसे में नेहरा की उमेश को यह सलाह काफी उपयोगी साबित हो सकती है.
उमेश कहते हैं, ‘आउट स्विंग मेरी ताकत है. ऐसे में मैं पूरी कोशिश करता हूं कि गेंद को जितना हो सके ऑफ स्टंप के नजदीक रखूं. नेहरा ने मुझे बताया किसी भी गेंदबाज की लेंथ हमेशा समान होनी चाहिए वह चाहे भारत में खेल रहा हो या बाहर. ऐसे में मैं नेहरा की इस बात का ध्सान रखूंगा. अगर आप गेंदबाजी में काफी एक्सपेरिमेंट करने की कोशिश करते हैं तो सबकुछ घुलमिल जाता है. मगर अब जब मैं सिंगल विकेट को टारगेट करूंगा तो मेरा ध्यान कहीं और भटकेगा नहीं

बता दें, उमेश को आगामी इंग्लैंड दौरे के लिए टीम में शामिल किया गया है. लाइन लेंथ के साथ इस तेज़ गेंदबाज की फिटनेस भी हमेशा से एक समस्या रही है. हालांकि मौजिदा समय में यह खिलाड़ी फिट चल रहा है.