आगामी सात अप्रैल से आईपीएल सीजन-11 की शरुआत होने जा रही है. अभी से ही क्रिकेट प्रेमी उत्साहित हैं. इस टूर्नामेंट में वो सब कुछ देखने को मिलता है जो हम बतौर दर्शक उम्मीद करते हैं. छक्के-चौकों की बरसात से लेकर रोचक रिकॉर्ड कुछ भी ऐसा नहीं होता है जिसे आप मिस करें.

बता दें, ग्यारहवें संस्करण का उद्घाटन मुकाबला सात अप्रैल को वानखेड़े स्टेडियम में मौजूदा चैम्पियन मुम्बई इंडियंस और दो बार के चैम्पियन चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला जाएगा. वैसे तो हर साल की तरह इस साल भी नए रिकॉर्ड बनेंगे पुराने टूटेंगे. लेकिन आज हम आपको बताने जा रहें हैं आईपीएल इतिहास की पांच सबसे बड़ी साझेदारियां.

1-विराट कोहली और एबी डिविलीयर्स
रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू के कप्तान विराट कोहली और एबी डिविलीयर्स के नाम आईपीएल इतिहास की सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड दर्ज है. इन दोनों ने 14 मई 2016 आईपीएल में गुजरात लायंस के खिलाफ दुसरे विकेट के लिए 229 रनों की साझेदारी की थी. यह साझेदारी आईपीएल इतिहास की सबसे बड़ी साझेदारी है.

2- विराट कोहली और एबी डिविलीयर्स
दुसरी सबसे बड़ी साझेदारी भी इन दोनों बल्लेबाजों के नाम ही दर्ज है. 10 मई 2015 को मुंबई इंडियंस के खिलाफ इन दोनों ने दुसरे विकेट के लिए नाबाद 215* रनों की साझेदारी की थी. इससे पता चलता है कि इस दोनों बल्लेबाजों का बल्ला साथ में कैसा चलता है. बता दें, इस सीजन में ये दोनों खिलाड़ी आरसीबी के लिए ही खेल रहे हैं.

3- एडम गिलक्रिस्ट और शॉन मार्श

किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ से खेलते हुए एडम गिलक्रिस्ट और शॉन मार्श ने रॉयल्स चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ आईपीएल इतिहास की तीसरी सबसे बड़ी साझेदारी की थी. 17 मई 2001 को धर्मशाला में आरसीबी के खिलाफ खेलें गए मैच में इस दोनों ने दुसरे विकेट के लिए 206 रन जोड़े थे.

4- क्रिस गेल और विराट कोहली
17 मई 2012 को दुसरे विकेट के लिए टीम के कप्तान विराट कोहली और सलामी धाकड़ बल्लेबाज क्रिस गेल ने 204 रनों की साझेदारी की थी. यह मैच दिल्ली डेयरडेविल्स के उसके होम ग्राउंड पर हुआ था. ऐसे आईपीएल की सबसे साझेदारियों में विराट अकेले तीन में शामिल हैं.

5-डेविड वार्नर और नमन ओझा
10 मई 2012 को हैदराबाद में आईपीएल इतिहास की पांचवी सबसे बड़ी साझेदारी हुई थी जो डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ 189 रनों की पार्टनरशिप डेविड वार्नर और नमन ओझा ने की थी. खास बात यह है कि ये साझेदारी भी दुसरे विकेट के लिए ही हुई थी.

आईपीएल इतिहास में खेली गयी सबसे बड़ी साझेदारियां में एक दिलचस्प बात कॉमन है और वो यह है कि ये सभी साझेदारियां दुसरे विकेट के लिए हुईं हैं.